होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP By Poll Results: शिवपाल यादव की पार्टी का सपा में विलय, अखिलेश की मौजूदगी में उठाया झंडा

UP By Poll Results: शिवपाल यादव की पार्टी का सपा में विलय, अखिलेश की मौजूदगी में उठाया झंडा

शिवपाल यादव की गाड़ी में सपा का झंडा लगाते उनके भतीजे

शिवपाल यादव की गाड़ी में सपा का झंडा लगाते उनके भतीजे

UP Politics: UP उपचुनाव के फाइनल नतीजे आने से पहले ही शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का विलय समाजवाद ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मुलायम सिंह यादव की सीट मैनपुरी से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी डिंपल यादव ने बीजेपी के रघुराज सिंह शाक्य पर भारी बढ़त बना ली है
उपचुनाव से ठीक पहले चुनाव प्रचार के दौरान भी चाचा-भतीजा एक साथ मैदान में दिखे थे
चुनावी जनसभा में अखिलेश यादव ने पैर छूकर चाचा का आशीर्वाद लिया था

लखनऊ/इटावा. उत्तर प्रदेश की एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में समाजवादी पार्टी बड़ा उलटफेर करती दिख रही है. देखने को मिल रहा है. तीनों सीटों पर समाजवादी पार्टी का कब्जा होता दिख रहा है. उपचुनाव में जहां मुलायम सिंह यादव की सीट मैनपुरी से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी डिंपल यादव ने बीजेपी के रघुराज सिंह शाक्य पर भारी बढ़त बना ली है तो वहीं दो अन्य सीटों रामपुर और मुजफ्फरनगर की खतौली विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आगे चल रहे हैं.

इस बीच शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का विलय समाजवादी पार्टी में कर दिया है. शिवपाल यादव के भतीजे और जिला पंचायत अध्यक्ष अभिषेक उर्फ अंशुल यादव ने चाचा शिवपाल की गाड़ी से प्रसपा झंडा निकालकर सपा का झंडा लगाया. हांलाकि इस बात का शिवपाल यादव की तरफ से औपचारिक  घोषणा होना अभी बाकी है. उत्तर प्रदेश की एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों के लिये उपचुनाव में रामपुर में सपा के आसिम रजा बीजेपी के आकाश सक्सेना से आगे चल रहे हैं, जबकि खतौली में गठबंधन प्रत्याशी रालोद के मदन भैया बीजेपी की राजकुमारी से सैनी से आगे चल रहे हैं.

मैनपुरी लोकसभा के अंतर्गत आने वाली जसवंतनगर विधानसभा सीट पर डिंपल यादव ने सभी पुरानी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. डिंपल यादव ने इस विधानसभा सीट पर करीब 1.05 लाख वोट से ज्यादा की लीड़ हासिल की. जिसके बाद मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव का भी रिकॉर्ड टूट गया.

आपके शहर से (लखनऊ)

मालूम हो कि नेताजी यानी मुलायम सिंह यादव के निधन बाद मैनपुरी उपचुनाव में चाचा-भतीजे यानी अखिलेश और शिवपाल यादव साथ नजर आए थे. शिवपाल यादव ने बहू डिंपल यादव के लिए जमकर चुनाव प्रचार किया था. चुनावी जनसभा में अखिलेश यादव ने पैर छूकर चाचा का आशीर्वाद भी लिया था, जिसके बाद से ही कहा जा रहा था कि दोनों पुराने गिले शिकवे भुलाकर एक हो चुके हैं.

Tags: Prayagraj Samajwadi Party, Shivpal singh yadav, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें