पुलवामा आतंकी हमले में यूपी के 12 जवान भी शहीद, शोक में डूबा पूरा प्रदेश

शहीद होने वाले में उन्नाव शहर कोतवाली के लोक्नगर मोहल्ला के रहने वाले प्यारेलाल का 35 वर्षीय बेटा अजीत कुमार आजाद 115वीं बटालियन में सीआई के पद पर तैनात था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 15, 2019, 10:21 AM IST
पुलवामा आतंकी हमले में यूपी के 12 जवान भी शहीद, शोक में डूबा पूरा प्रदेश
पुलवामा में हुए फिदायीन हमले में यूपी के कई जवान शहीद हुए हैं. अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक 11 जवानों के शहीद होने की पुष्टि हो चुकी है, जबकि एक जवान लापता हैं.
News18 Uttar Pradesh
Updated: February 15, 2019, 10:21 AM IST
पुलवामा में हुए फिदायीन हमले में यूपी के कई जवान शहीद हुए हैं. अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक 12 जवानों के शहीद होने की पुष्टि हो चुकी है. शहादत की खबर पहुंचे ही गांवों में मातम पसरा हुआ है.

शहीद होने वालों में उन्नाव शहर कोतवाली के लोकनगर मोहल्ला के रहने वाले प्यारेलाल का 35 वर्षीय बेटा अजीत कुमार आजाद 115वीं बटालियन में सीआई के पद पर तैनात था. देर शाम मौत की खबर मिलते ही मां राजवती, पत्नी मीना व दो बेटियों ईशा और श्रेया का रो-रोकर बुरा हाल हो गया.

कन्नौज के तिर्वा के सुख्सेंपुर निवासी जवान प्रदीप सिंह यादव भी उस बटालियन में शामिल थे, जिसे आतंकियों ने अपना निशाना बनाया. मौत की खबर मिलते ही परिवार पर गम का पहाड़ टूट पड़ा. प्रदीप अपने पीछे पत्नी नीरज और दो बेटी सुप्रिया यादव और सोना यादव छोड़ गए हैं.

आगरा के कइरई गांव के जवान कौशल कुमार रावत भी हमले में शहीद हो गए. कौशल की शहादत की खबर आई तो पूरा गांव रो उठा. मां धन्नो देवी, भाई कमल किशोर और पूरा परिवार बेहाल हो गया.

प्रयागराज के मजा के महेश कुमार भी शहीद हुए जवानों में शामिल हैं. महेश 118 बटालियन में तैनात थे. इस समय उनकी पोस्टिंग बिहार में थी.

शामली के बनत के लाल प्रदीप भी इस हमले में शहीद हो गए. उनके घर में कोहराम मचा हुआ है. डीएम और एसपी ने मौत की पुष्टि की है. शामली के एक और जवान जवान अमित कुमार के भी शहीद होने की सूचना है. अमित कुमार शामली के रेलपार कॉलोनी के निवासी हैं. इसके अलावा मैनपुरी के करहल स्थित गांव विनायकपुर के सैनिक राम वकील भी शहीद हुए हैं.

देवरिया के भटनी थाना क्षेत्र के छपिया जयदेव गांव के विजय मौर्या भी हमले में शहीद हुए हैं. वे CRPF के 82 बटालियन कांस्टेबल पद पर तैनात थे.
Loading...

वाराणसी के मिलकोपुर के लाल रमेश यादव भी पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए हैं. मौत की सूचना पहुंचते ही घर में कोहराम मचा हुआ है.

पुलवामा में आतंकी हमले में जनपद कानपुर देहात का भी एक लाल शहीद हुआ है. कानपुर देहात के डेरापुर थाना के रैगवा के रहने वाले श्याम बाबू शहीद हो गए. जवान के शहीद होने की सूचना के बाद घर में मातम पसरा हुआ है. मौत की सूचना मिलते ही परिजन बेसुध हो गए. बीए प्रथम वर्ष की पढ़ाई करते हुए ही 2007 में उन्होंने सीआरपीएफ ज्वाइन किया था. श्याम लाल के दो बच्व्हे हैं.  एक लड़का 4 वर्ष का और एक लड़की पांच माह की है.

पुलवामा के आतंकी हमले में चंदौली का लाल अवधेश यादव भी शहीद हो गए. अवधेश यादव 45वीं बटालियन में तैनात था. रेडियो आपरेटर सिग्नल पद पर तैनात थे. जवान के शहीद होने की सूचना के बाद गाँव मे मातम पसरा हुआ है. शहीद की मां कैंसर से पीड़ित हैं, जिसकी वजह से सूचना नहीं दी गई है. मुगलसराय कोतवाली के बहादुरपुर गांव के रहने वाले थे अवधेश.

महराजगंज के हरपुरा गांव के टोला बेलहिया के रहनेे वाले पंकज त्रिपाठी भी  शहीद हुए हैं. चार दिन पहले ही छुट्टी खत्म कर डियूटी ज्वाइन किया था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2019, 8:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...