राज्य संपत्ति अधिकारी ने शुरू की अखिलेश के बंगले में हुई तोड़फोड़ की जांच

दरअसल, अखिलेश यादव के 4 विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी बंगले में जमकर तोड़फोड़ के बाद विभाग ने बंगले की भी जांच करवाने के निर्देश दिए थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 15, 2018, 9:45 AM IST
राज्य संपत्ति अधिकारी ने शुरू की अखिलेश के बंगले में हुई तोड़फोड़ की जांच
अखिलेश यादव की फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 15, 2018, 9:45 AM IST
राज्य संपत्ति अथिकारी ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के खाली किए गए बंगले में हुई तोड़फोड़ की जांच शुरू कर दी है. राज्य संपत्ति अधिकारी योगेश शुक्ला ने बताया कि सभी खाली किए गए बंगलों रिकॉर्ड से मिलान करवाया जाएगा. सभी निर्माण व सामान आदि का ब्यौरा विभाग के पास मौजूद है. यदि यह तथ्य प्रकाश में आया कि तोड़फोड़ जानबूझकर की गई है और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया है तो नोटिस और रिकवरी की कार्रवाई की जाएगी. वहीं जांच कबतक पूरी हो जाने के सवाल पर राज्य संपत्ति अधिकारी ने बताया कि अभी थोड़ा वक्त लगेगा.

दरअसल, अखिलेश यादव के 4 विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी बंगले में जमकर तोड़फोड़ के बाद विभाग ने बंगले की भी जांच करवाने के निर्देश दिए थे. गौरतलब है शनिवार को राज्य संपत्ति विभाग के अधिकारी बंगले के अंदर की तस्वीर देखकर हैरान रह गए. इस भव्य और आलीशान बंगले में कई ब्लॉक थे. करीब पचीस कमरे, बड़ी रसोई, जिम के आलावा एक भव्य वेटिंग रूम बनाया गया था. अखिलेश यादव का दफ्तर भी था. सिक्योरिटी गार्ड्स के लिए एक ब्लॉक था. वायरिंग, फॉल्स सीलिंग, एयरकंडीशन और बाथरूम तक कई जगह टाइल्स भी उखड़ी हुई थी.

बता दें कि कोर्ट के आदेश के बाद 5 जून को अखिलेश यादव ने अपना सरकारी बंगला खाली कर दिया था. इस बंगले की सजावट में करोड़ों रुपया खर्च किया गया था. साथ ही, इसमें सुख-सुविधाओं का हर इंतजाम किया गया था. अब अखिलेश यादव पर आरोप लग रहा है कि उन्होंने बंगला खाली करते वक्त इसे बुरी तरह से उजाड़ दिया गया है.
First published: June 15, 2018, 9:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...