Raksha Bandhan 2019: राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने CM योगी आदित्यनाथ को बांधी राखी

इसके बाद मुख्यमंत्री कैप्टन मनोज पांडेय सैनिक स्कूल में आयोजित स्वतंत्रता दिवस और रक्षा बंधन के कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 15, 2019, 1:00 PM IST
Raksha Bandhan 2019: राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने CM योगी आदित्यनाथ को बांधी राखी
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को राखी बांधी
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 15, 2019, 1:00 PM IST
रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2019) के मौके पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Governor Anandiben Patel )ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को राखी बांधी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ (Lucknow) में स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के मौके पर झंडारोहण के बाद राजभवन पहुंचे और राज्यपाल से राखी बंधवाई. इसके बाद मुख्यमंत्री कैप्टन मनोज पांडेय सैनिक स्कूल में आयोजित स्वतंत्रता दिवस और रक्षा बंधन के कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे. यहां भी मुख्यमंत्री ने छात्रों के साथ रक्षाबंधन का त्योहार मनाया और राखी बंधवाई.

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा के गेट पर झंडा फहराया. उन्होंने स्वतंत्रता दिवस के संबोधन में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाने और तीन तलाक से मुस्लिम महिलाओं को मिक्ति दिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि आज उत्तर प्रदेश भी भारत के साथ विकास के पथ पर अग्रसर है. उन्होंने अपने संबोधन के दौरान अपनी सरकार की उपलब्धियों का भी ब्योरा दिया.

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रदेशवासियों को बधाई

मुख्यमंत्री ने कहा, "स्वतंत्रता दिवस के 73वेंवर्ष पर प्रदेश वासियों को बधाई और शुभकामनाएं. कश्मीर में अनुच्छेद 370 को लेकर ऐतिहासिक फैसला हुआ. एक भारत श्रेष्ठ भारत का सपना पूरा हुआ। जो सपना सरदार वल्लभ भाई पटेल, बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने देखा था वो पूरा हुआ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को बधाई. देश स्वतंत्रता दिवस के साथ-साथ रक्षाबंधन भी मना रहा है, उसके लिए भी शुभकामनाएं और बधाई."

मुख्यमंत्री ने कहा, "तीन तलाक़ से मुक्त करना नारी गरिमा और सम्मान के प्रति दृष्टिकोण को उजागर करता है. यह 550वां प्रकाशोत्सव का वर्ष भी है. उनके संदेश को आमजन के बीच पहुंचाने का वर्ष भी है. पूरे देश में स्वाधीनता को लेकर आंदोलन की बात होती है तो 1857 की याद आती है. उसकी भूमि उत्तर प्रदेश रही है और मात्र नब्बे वर्ष बाद ही देश स्वतंत्र हुआ. आजादी के समय के क्रांतिकारियों को नमन करता हूं. आजादी के बाद देश के लिए शहीद होने वाले जवानों को श्रद्धांजलि."

भारत विश्व में उभरती हुई अर्थव्यवस्था है

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, "भारत विश्व में उभरती हुई अर्थव्यवस्था है. आज संकल्प दिवस है जिससे समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को उपर उठाया जा सके. 2019 का प्रारंभ उत्तर प्रदेश और देश के लिए सुखद रहा है. दुनिया के अद्भुत कुंभ का सफलतम आयोजन हुआ. ये सिद्ध करता है कि अगर सही नेतृत्व हो तो कोई कार्य बड़ा नहीं होता. आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए स्वच्छता का संदेश दिया. राष्ट्रपति उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री और देव दुनिया के लोगों का सहयोग मिला. सबने प्रयागराज कुंभ के आयोजन को सराहा. 187 देशों के साथ हर एक देशवासी का सहयोग मिला. अपनी संस्कृति पर गौरव की अनुभूति हो ऐसी कोशिश रही.
Loading...

उत्तर प्रदेश ने विकास का प्रतिमान स्थापित किया

उत्तर प्रदेश ने विकास का प्रतिमान स्थापित किया है. केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं को लागू किया गया. इसके लिए राष्ट्रीय स्तर पर 12 पुरस्कार मिला. उत्तर प्रदेश को कई योजनाएं लागू करने के लिए प्रथम पुरस्कार मिला. लोककल्याण योजनाओं के लिए विकास को देखने के लिए दृष्टि चाहिए. पहले ही इंवेस्टर समिट में पांच लाख करोड़ के निवेश आए. एक साल के अंदर 65 करोड़ की योजनाएं जमीन पर उतारा गया.

ये भी पढ़ें:

CM योगी आदित्यनाथ ने दी 73वें स्वतंत्रता दिवस की बधाई, कहा- कश्मीर के लिए नया सवेरा

रक्षाबंधन पर मायके जाने से मना किया तो नाराज़ होकर पत्नी ने लगाई फांसी

 
First published: August 15, 2019, 1:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...