Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अखिलेश को रोके जाने पर भड़के रामगोपाल यादव, CM योगी को ठहराया जिम्मेदार

    इसकी खबर फैलते ही सूबे के सभी जनपदों में सपाइयों का उग्र प्रदर्शन शुरू हो गया है. जगह-जगह धरने पर बैठे सपा कार्यकर्ता और पार्टी के नेता जमकर सरकार विरोधी नारे लगा रहे हैं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: February 12, 2019, 6:08 PM IST
    • Share this:
    यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. इस घटना पर रामगोपाल यादव ने कहा, ''मुझे ऐसा लग रहा है कि अघोषित आपातकाल की स्थिति आ गई है. उन्होंने कहा कि अखिलेश को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इशारे पर रोका गया है. पार्टी अध्यक्ष प्रयागराज जा रहे थे इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में एक भवन का उद्घाटन करना था. उन्होंने कहा कि योगी जी सबको प्रयागराज बुला रहे हैं हमारे अध्यक्ष को रोका जा रहा है.

    अखिलेश ने कहा कि इलाहाबाद में अराजकता फैलाने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती लेकिन मुझे वहां जाने से रोका गया. हम सिर्फ छात्र नौजवानों से मिल लेते, कुछ बातें कर लेते तो इसमें क्या हो जाता. अखिलेश ने कहा, ''बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया. पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे. छात्र संघ कार्यक्रम में जाने से रोकना का एक मात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है.


    इसकी खबर फैलते ही सूबे के सभी जनपदों में सपाइयों का उग्र प्रदर्शन शुरू हो गया है. जगह-जगह धरने पर बैठे सपा कार्यकर्ता और पार्टी के नेता जमकर सरकार विरोधी नारे लगा रहे हैं. प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, जिसमें बदायूं से सपा सांसद धर्मेंद्र यादव घायल हो गए हैं. उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया है.



    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    ये भी पढ़ें:

    योगी देश के पहले CM जिन पर लगी हैं इतनी धाराएं: अखिलेश यादव

    रणनीति! प्रियंका को गांधी नहीं, प्रियंका वाड्रा के रूप में पेश करेगी BJP

    OPINION: जानिए क्या है प्रियंका गांधी का यूपी में 'विनिंग प्लान'?

    इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने नहीं दी थी अखिलेश यादव को परमिशन, ये रहा पत्र

    राम मंदिर पर कोर्ट को 24 घंटे में फैसला सुना देना चाहिए: CM योगी आदित्यनाथ
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज