लाइव टीवी

बसपा से निष्कासित राम प्रसाद चौधरी सहित 5 पूर्व विधायक और पूर्व सांसद ने ज्वाइन की सपा

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 20, 2020, 3:33 PM IST
बसपा से निष्कासित राम प्रसाद चौधरी सहित 5 पूर्व विधायक और पूर्व सांसद ने ज्वाइन की सपा
बसपा के कई नेताओं ने सोमवार को समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

पूर्व सांसद अरविंद चौधरी, पूर्व दूधराम, नंदू चौधरी, राजेन्द्र चौधरी और उमेश पांडेय सपा में शामिल हुए. इनके अलावा एक दर्जन जिला पंचायत सदस्य और कई पूर्व जिला पंचायत सदस्य ने भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) ने समाजवादी पार्टी मुख्यालय में इन सभी की पार्टी में ज्वाइनिंग करवाई.

  • Share this:
लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) से पिछले महीने दिसंबर में निष्कासित किए गए पूर्व कैबिनेट मंत्री राम प्रसाद चौधरी (Ram Prasad Chaudhary) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ज्वाइन कर ली है. सोमवार को 5 पूर्व विधायक और एक पूर्व सांसद सपा में शामिल हुए. इनके अलावा एक दर्जन जिला पंचायत सदस्य और कई पूर्व जिला पंचायत सदस्य ने भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) ने समाजवादी पार्टी मुख्यालय में इन सभी की पार्टी में ज्वाइनिंग करवाई. इस दौरान इन नेताओं की भारी भीड़ कार्यालय में उपस्थित रही. सोमवार को पूर्व सांसद अरविंद चौधरी, पूर्व दूधराम, नंदू चौधरी, राजेन्द्र चौधरी और उमेश पांडेय सपा में शामिल हुए.

ज्वाइन के दौरान राम प्रसाद चौधरी ने कहा कि मैं कहीं गुमराह हो गया था. विश्वास दिलाता हूं कि अंतिम सांसों तक समाजवादी रहूंगा. उन्होंने कहा कि आज किसान परेशान है. किसानों को आय कहीं से भी दूनी नहीं हुई है.

कौन हैं राम प्रसाद चौधरी

बता दें राम प्रसाद चौधरी बहुजन समाज पार्टी के कद्दावर नेता हैं. कुर्मी बिरादरी से आते हैं. इससे पहले वह यूपी में कैबिनेट मंत्री, सांसद और 5 बार लगातार विधायक भी रहे हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में बस्ती से गठबंधन के प्रत्याशी भी थे. उन्होंने कप्तानगंज विधानसभा से लगातार 5 बार चुनाव जीता. खलीलाबाद लोक सभा क्षेत्र से एक बार सांसद भी चुने गये थे. मायावती सरकार में खाद्य रसद एवं पंचायती राज विभाग के कैबिनट मंत्री रहे.

इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि ये जैसे-जैसे मौसम खुलेगा, वैसे वैसे पार्टी में गर्माहट आती रहेगी. ये छोटा-मोटा बदलाव नहीं है. सरकार में बदलाव लाएगा. जब आप लोग अपने घरों से निकले तो सरकार को समझ नहीं आ रहा था. ये नया साल ज़रूर है लेकिन हमारा नया साल तब होगा, जब हमारी आपकी सरकार होगी.

अखिलेश यादव ने किया बीजेपी पर हमला

अखिलेश यादव ने कहा कि हमारे गरीब किसानों ने भरोसा कर लिया और सरकार बना ली. दिल्ली में दोबारा मौका दे दिया. सरकार उनकी बनी लेकिन किसानों को बर्बाद कर दिया. उन्होंने पूछा कि यूपी किसके लिए जाना जाता था? यहां बेहतरीन सड़कें, लैपटॉप दिया लेकिन आज यूपी अपराधों का प्रदेश बन गया है. महिला अपराध में नंबर वन, स्वास्थ में, बेरोजगारी में, ये नंबर वन इसलिए है क्योंकि हमारे मुख्यमंत्री को पता नहीं है कि नीचे से आता है या ऊपर से. हमें और आपको उलझ दिया शौचालय में कि हम कुछ समझ न पाएं.अखिलेश ने कहा कि हमारे संविधान में धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं है, लेकिन इनको सत्ता मिलते ही इन्होंने धर्म के आधार पर भेदभाव कर दिया. असम के एक हिस्से में तो एनआरसी लागू ही नहीं हो पाई. उत्तर पूर्व में तो कई हिस्से ऐसे हैं, जहां बिना परमिट के नहीं जा सकते हैं. पूर्व देश को उलझा दिया. अखिलेश ने कहा कि इस जमाने में बहुत लोग ऐसे हैं जिन्होंने कभी कैलेंडर ही नहीं देखा है. कहां से अपना और अपने पिता का जन्मप्रमाण पत्र लाएंगे? बड़े-बड़े राजा महाराज भी हैं जिनके पास भी कागज़ नहीं हैं. अखिलेश यादव ने इस दौरान बताया कि अमेठी के एक राजा थे, हमारे पास आये थे, उनके बेटे ने उनके महल पर कब्ज़ा कर लिया. हमें पीएसी लगानी पड़ी तो राजा अपने महल में घुस पाए. राजा के पास भी महल के कागज़ नहीं थे.

इनपुट: अलाउद्दीन

ये भी पढ़ें:

सीएम योगी अखिलेश का तंज- हमारे बाबा मुख्यमंत्री बहुत अच्छे हैं, सिर्फ...

नोएडा: DCP पत्नी को सैल्यूट करते नजर आएंगे एडिशनल DCP

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बस्ती से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 3:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर