लाइव टीवी

रंजीत बच्चन हत्याकांड: पुलिस ने पत्नी, उसके बॉयफ्रेंड समेत 3 को किया गिरफ्तार

भाषा
Updated: February 6, 2020, 10:59 PM IST
रंजीत बच्चन हत्याकांड: पुलिस ने पत्नी, उसके बॉयफ्रेंड समेत 3 को किया गिरफ्तार
रंजीत बच्चन की पत्नी गिरफ्तार

चालीस वर्षीय रंजीत बच्चन (Ranjeet bachchan) की दो फरवरी को गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गई थी. उस समय वह सुबह की सैर को निकले थे.

  • Share this:


लखनऊ. हिंदू संगठन के नेता रंजीत बच्चन (Ranjit Bachchan) की हत्या (Murder) के सिलसिले में उनकी पत्नी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार (Arrest) किया गया है. लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय ने मीडिया को बताया कि इस मामले में बच्चन की दूसरी पत्नी बताई जा रही स्मृति श्रीवास्तव, उनके मित्र दीपेंद्र और ड्राइवर संजीत गौतम को गिरफ्तार किया गया है.


दीपेंद्र से शादी करना चाहती थी स्मृति

पांडेय के मुताबिक स्मृति ने पुलिस को बताया है कि उसके और बच्चन के बीच तलाक का मुकदमा 2016 से चल रहा था लेकिन बच्चन अदालत में पेश नहीं हो रहे थे और प्रक्रिया में विलंब कर रहे थे. स्मृति का दावा है कि बच्चन, दीपेंद्र के साथ उसके शादी में समस्याएं पैदा कर रहे थे.


हमले में चचेरे भाई भी हुए थे घायल
बच्चन ने विश्व हिंदू महासभा की स्थापना की थी. चालीस वर्षीय बच्चन की दो फरवरी को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. उस समय वह सुबह की सैर को निकले थे. हमले में उनके चचेरे भाई आदित्य श्रीवास्तव घायल हो गए थे. पांडेय ने बताया कि हत्या में बच्चन की दूसरी पत्नी स्मृति, उसका दोस्त दीपेंद्र, ड्राइवर संजीत और शूटर जीतेंद्र शामिल थे. दीपेंद्र ने ही सबको वारदात के लिए राज़ी किया था.

विकास नगर से अरेस्ट हुई थी स्मृति
उन्होंने बताया कि स्मृति पूरी साजिश का हिस्सा थी. संजीत को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया. दीपेंद्र को उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की सीमा से पकड़ा गया. स्मृति को भी लखनऊ के विकास नगर से गिरफ्तार किया गया. पांडेय ने बताया कि दीपेंद्र, संजीत और जीतेंद्र एक और दो फरवरी की मध्यरात्रि के बाद लगभग 2:30 बजे रायबरेली से निकले. दो फरवरी को दीपेंद्र को हजरतगंज चौराहे पर छोड़ दिया गया. शूटर को कैपिटल सिनेमा हॉल की क्रॉसिंग के पास छोड़ा गया.

आयुक्त ने बताया कि सुबह 5:40 पर रंजीत बच्चन, कालिंदी और आदित्य अपने घर से सुबह की सैर के लिए निकले। हजरतगंज में शूटर ने उनका पीछा किया और ग्लोब पार्क के बाहर हमला कर दिया. आरोपियों की धरपकड़ के लिए 12 टीमों का गठन किया गया था. उन्होंने बताया कि शूटर जीतेंद्र को पकड़ने के प्रयास चल रहे हैं. इससे पहले लापरवाही बरतने के लिए एक सब इंस्पेक्टर सहित चार पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था.

ये भी पढ़ें: 


आजमगढ़ में पुलिस कार्रवाई से भड़के अखिलेश, बोले- महिलाओं से डर गई BJP सरकार


राम मंदिर निर्माण से पहले मस्जिद के अवशेष लेने की तैयारी में बाबरी एक्शन कमेटी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 10:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर