लखनऊ: प्रतिष्ठित न्यूरो सर्जन डॉ. रवि देव के खिलाफ दर्ज हुई रेप की FIR

इस दौरान वह गर्भवती हो गई और डॉ. रवि देव के विरोध के बावजूद बच्चे को जन्म दिया. पीड़िता ने मामले की शिकायत महानगर पुलिस से की. पुलिस ने संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 14, 2018, 8:33 AM IST
लखनऊ: प्रतिष्ठित न्यूरो सर्जन डॉ. रवि देव के खिलाफ दर्ज हुई रेप की FIR
(प्रतिकात्मक फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: October 14, 2018, 8:33 AM IST
लखनऊ शहर के प्रतिष्ठित न्यूरो सर्जन और केजीएमयू के एचओडी रहे डॉ. रवि देव के खिलाफ एक महिला ने रेप का आरोप लगाते हुए महानगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है. महिला के मुताबिक वह डॉ. रवि देव की मरीज थी. डॉक्टर ने इलाज के दौरान नशीली दवा खिलाकर उसका रेप किया और उसकी अश्लील फोटो व वीडियो बना ली. फिर उसे बदनाम करने की धमकी देकर उसका यौन शोषण करने लगा.

इस दौरान वह गर्भवती हो गई और डॉ. रवि देव के विरोध के बावजूद बच्चे को जन्म दिया. पीड़िता ने मामले की शिकायत महानगर पुलिस से की. पुलिस ने संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है. पीड़िता ने बताया कि शहर के प्रतिष्ठित न्यूरो सर्जन डा. रवि देव ने युवती को बेहोश कर उसके साथ रेप किया. इस दौरान उन्होंने आपत्तिजनक वीडियो तैयार कर उसे क्लीनिक में काम करने का दबाव बनाया.

एफआईआर कॉपी


महिला ने बताया कि विरोध करने पर वीडियो वॉयरल करने की धमकी देने लगे. गर्भवती होने पर डा. रवि देव ने युवती से अबॉर्शन कराने के लिए कहा. पर, वह तैयार नहीं हुई. इस बीच युवती ने बच्चे को जन्म दिया. डॉक्टर उसके साथ आप्राकृतिक दुष्कर्म करने लगे. एतराज जताने पर युवती को पीटा गया. पीड़ित महिला ने इस मामले में डा. रवि देव और उनके साथियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

(रिपोर्ट: ऋषभ मणि त्रिपाठी)

ये भी पढ़ें:

विवेक तिवारी हत्‍याकांड: SIT ने आरोपी सिपाहियों के साथ किया 'क्राइम सीन' रिक्रिएट
Loading...

लाइव कन्सर्ट में नहीं पहुंची सपना चौधरी, नाराज दर्शकों ने किया जमकर हंगामा

कुंभ मेले से पहले इलाहाबाद का नाम बदलकर होगा 'प्रयागराज', राज्यपाल ने जताई सहमति
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर