3 साल से न्याय की गुहार लगा रही रेप पीड़िता ने पति संग किया आत्मदाह का प्रयास

पीड़िता का कहना है कि उसके साथ सपा के एक नेता ने नौकरी का झांसा देकर रेप किया था. मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 13, 2018, 4:02 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 13, 2018, 4:02 PM IST
लखनऊ विधानसभा के सामने बुधवार को एक रेप पीड़ित महिला ने अपने पति के साथ पेट्रोल डालकर आत्मदाह का प्रयास किया. जिसके बाद वहां मौजूद पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया. दोनों खुद को आग के हवाले कर पाते उससे पहले पुलिस ने उन्हें बचाते हुए थाने ले आई.

रेप पीड़ित महिला का आरोप है कि तीन साल से वह न्याय के लिए भटक रही है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है. पीड़िता का कहना है कि उसके साथ सपा के एक नेता ने नौकरी का झांसा देकर रेप किया था. मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई है.

यह भी पढ़ें: रेप का आरोपी विधायक बोला, मुझे जेल में चाहिए वीआईपी सुविधाएं

मीडिया से बातचीत में पीड़िता ने बताया कि 2015 में कासगंज के पटियाली का एक सपा नेता नीरज मिश्रा ने उसे नौकरी का झांसा देकर लखनऊ बुलाया और उसके साथ रेप किया. मामले में एफआईआर भी दर्ज है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

पटियाली निवासी पीड़िता के पति ने बताया कि अब उनके ऊपर केस वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है. पीड़िता ने कहा कि वह पिछले तीन सालों में मुख्यमंत्रियों और कई मंत्रियों से न्याय की गुहार लगा चुकी है, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है.

पीड़िता ने कहा कि अभी तक पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है. बल्कि उल्टे पैसे लेकर उन्हीं के ऊपर दबाव बनाया जा रहा है. पीड़िता ने कहा कि न्याय नहीं  मिलता तो अब वह अपने आप को ही आग लगाकर खत्म कर देगी.

पीड़िता ने कहा कि वे इस मामले में अखिलेश यादव से भी मिल चुकी हैं, लेकिन फिर भी कोई सुनवाई नहीं हुई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने से भी मिल चुकी हूं, लेकिन न्याय नहीं मिल रहा.

(इनपुट: रिषभमणि त्रिपाठी)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर