लखनऊ में रावण के साथ Corona का भी होगा दहन, ऐसी की गई तैयारी

लखनऊ में रावण के साथ Corona का भी होगा दहन
लखनऊ में रावण के साथ Corona का भी होगा दहन

आपको बता दें कि ऐशबाग की रामलीला में एक बार देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को भी आमंत्रित किया गया था और वह आए भी थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 11:40 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. कोरोना के संक्रमण काल में लखनऊ (Lucknow) के ऐतिहासिक ऐशबाग रामलीला (Aishbag Ramleela) में भी शाम 7:30 बजे रावण दहन का कार्यक्रम होगा. ऐशबाग मैदान में पिछली बार 121 फीट ऊंचे रावण का दहन किया गया था. इस बार राणव की लंबाई महज 71 फीट रखी गयी है. इस बार रावण दहन के पीछे कोरोना दहण का भी संदेश छिपा है. राणव दहन में भीड़ ना हो लेकिन सब शामिल हो सके, इसके लिए विशेष व्यवस्था की गयी है. दरअसल यूपी सरकार की गाइडलाइन अनलॉक-5 के अनुसार 200 लोग शामिल हो सकते हैं लेकिन यहां भी नियम और शर्ते रखी गयी है. रावण दहण में आम दर्शकों के शामिल होने पर रोक है.पहली बार है जब मेघनाद और कुंभकर्ण का पुतला नहीं बनाया गया है.

रावण के पुतले को बनाने का भी विशेष आयोजन होता था
लखनऊ की ऐशबाग रामलीला में रावण के पुतले को बनाने का भी विशेष आयोजन होता था. प्लाईवुड की लकड़ियों से इस पुतले को बनाया जाता था. बाहर से कारीगर आते थे लेकिन इस बार औपचारिकताओं को निभाते हुए बांस की खप्पचियों पर पुतला बनाया जा रहा है. और महज औपचारिकताएं ही कि जाएंगी. पुतला दहन के दौरान आतिशबाजी ज़रूर होगी पर कोरोना के संक्रमण को देखते हुए ज्यादा लोगों की भीड़ नहीं जुटने दी जाएगी. हालांकि, पुतले दहन का कार्यक्रम भी समिति के माध्यम से लाइव प्रसारण किया जाएगा.







आपको बता दें कि ऐशबाग की रामलीला में एक बार देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी आमंत्रित किया गया था और वह आए भी थे. समिति के सचिव कहते हैं अगर सब कुछ ठीक रहता तो इस बार हम महामहिम राष्ट्रपति को आमंत्रित करना चाहते थे, लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार कोई भी वीआईपी नहीं होगा. उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ही कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज