लाइव टीवी

किराए पर लीजिये ई-बाइक और घूमिये नवाबों का शहर, बीगो व बीके राइट्स के प्रस्ताव को मिली मंजूरी...

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 14, 2020, 10:48 PM IST
किराए पर लीजिये ई-बाइक और घूमिये नवाबों का शहर, बीगो व बीके राइट्स के प्रस्ताव को मिली मंजूरी...
किराए पर लीजिए बाइक और भरिये फर्राटा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राज्य परिवहन प्राधिकरण ने दो कंपनियों को बाइक संचालन के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. जिसको ई-बाइक का नाम दिया गया है...

  • Share this:
लखनऊ. आप नवाबों के शहर और उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) घूमने आए हैं और सस्ते किराए की कैब या ओला-ऊबर (ola-uber) मिल नहीं रही तो ऐसे में आपके लिये परिवहन विभाग एक बड़ा तोहफा लेकर आ रहा है. अब लखनऊ में अवागमन को सुचारू व सस्ता बनाने के उद्देश्य से ई-बाइक (e-bike) की शुरूआत हो रही है जिससे यहां आने वाले पर्यटक व काम से आने वाले लोगों को सहूलियत मिल सकेगी.

प्रस्ताव को मंजूरी
गोवा की तर्ज पर अब आपको राजधानी लखनऊ में भी किराए पर बाइक मिलेगी. जी हां जिस तरह गोवा में  किराए पर आसानी से बाईक मिल जाती है और बिना रोक-टोक के सड़कों पर फर्राटा भरते हैं वैसे ही  यूपी सरकार के राज्य परिवहन प्राधिकरण यानी एसटीए की बैठक में ये फैसला लिया गया है कि लखनऊ में भी लोगों को किराये पर बाइक या स्कूटी मिल सके. इससे लोगों का आवागमन आसान होगा. सोमवार को हुई बैठक में राज्य परिवहन प्राधिकरण ने दो कंपनियों को बाइक संचालन के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. जिसको ई-बाइक का नाम दिया गया है. पहले चरण में इन कंपनियों को पांच-पांच परमिट देकर बाइक का संचालन कराया जाएगा.

एसटीए के सचिव डॉ. विक्रम सिंह ने बताया कि जिन कंपनियों के बाइक चलाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली है उनमें बीगो और बीके राइट्स हैं. इसमें सबसे खास बात ये है कि जिस तरह ओला या ऊबर ने अपनी गाड़ियों की पार्किंग और बुकिंग की वय्वसथा की है लगभग उसी तर्ज पर इन बाइकों को भी लोग किराये पर ले सकेंगे. इन गाड़ियों की मोबाइल एप से बुकिंग होगी और क्षेत्रीय प्राधिकरण इन बाइकों के किराये को तय करेगा. अब सबसे बड़ा सवाल ये है कि इसकी निरगारनी कैसे होगी? तो आपको बता दें कि मुमकिन है कि ये बाइक मेट्रो स्टेशन से लिंक होगी और जीपीएस से इन बाइकों की निगरानी होगी और तो और इनमें ऑटोमैटिक ई-लॉक सिस्टम भी होगा. शहर के लोग शहर के एक कोने से गाड़ी किराये पर लेकर दूसरे कोने तक अपने तमाम कामकाज को निपटा सकेंगे और उसके बाद दूसरे कोने पर आप किराये की गाड़ी खड़ी करके जा सकते हैं.

एसटीए सचिव डॉ. विक्रम सिंह बताते हैं कि कंपनियों का दावा है कि वो फरवरी में पांच-पांच बाइक को किराए पर देने की सुविधा शुरू कर देंगे. मान लीजिये किसी को चौधरी चरण एयरपोर्ट से हजरतगंज जाना है और आपको वापस एयरपोर्ट नहीं जाना है तब आप किराये की बाइक लेकर एयरपोर्ट से हजरतगंज आइये अपना काम निपटाइये और वहीं अपनी बाइक स्टैंड पर खड़ी कर दीजिये और चिंता से मुक्त हो जाइये.

ये भी पढ़ें- शाहीन बाग की तर्ज पर प्रयागराज में मुस्लिम महिलाओं ने CAA-NRC के खिलाफ संभाली मोर्चे की कमान...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 10:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर