सुप्रीम कोर्ट के पैनल का सम्मान लेकिन हम श्री श्री का करते हैं विरोध: इकबाल अंसारी

अंसारी ने कहा कि कोर्ट अपना काम करेगा और कमेटी अपना काम करेगी. यह मामला पिछले 70 सालों से फंसा हुआ है, इसका अब हल होना जरूरी है. लेकिन हल अमन-चैन से होना चाहिए.

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 12, 2019, 4:47 PM IST
सुप्रीम कोर्ट के पैनल का सम्मान लेकिन हम श्री श्री का करते हैं विरोध: इकबाल अंसारी
फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: March 12, 2019, 4:47 PM IST
अयोध्या विवाद के मुस्लिम पक्षकारों के बीच अयोध्या में होने वाली मीटिंग के पहले लखनऊ के नदवा में बैठक हुई. इस मीटिंग में बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी सहित कई उलेमा, बोर्ड के सदस्यों ने भाग लिया. मीटिंग में सुप्रीम कोर्ट द्वारा विवाद के हल के लिए बनाई गई मध्यस्थ पैनल का स्वागत किया गया. इकबाल अंसारी ने कहा कि कोर्ट ने जो कमेटी बनाई है, उसका वे सम्मान करते हैं.

अंसारी ने कहा कि कोर्ट अपना काम करेगा और कमेटी अपना काम करेगी. यह मामला पिछले 70 सालों से फंसा हुआ है, इसका अब हल होना जरूरी है. लेकिन हल अमन-चैन से होना चाहिए. हालांकि उन्होंने कहा कि अयोध्या में पैनल से अभी तक उनकी बात नहीं हुई है लेकिन कोर्ट के पैनल में श्री श्री रविशंकर को शामिल करने पर विवाद है.



इकबाल अंसारी ने कहा कि श्री श्री रविशंकर को पैनल में शामिल करने का साधुओं के साथ-साथ वे भी विरोध करते हैं. उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि पैनल कोई जायज बात कहेगा तभी वे उसको मानेंगे. गौरतलब है कि अयोध्या मसले को लेकर मुस्लिम पक्षकारों के बीच लखनऊ नावदा स्थित इस्लामिया कॉलेज में मीटिंग हुई.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्‍या मामले में बड़ा फैसला सुनाते हुए मध्‍यस्‍थता के लिए पैनल गठित करने के आदेश दिए थे.  इस मध्‍यस्‍थ पैनल में  तीन सदस्‍यों को शामिल किया गया है. मध्‍यस्‍थता बोर्ड के सदस्‍यों में श्रीश्री रविशंकर के साथ ही श्रीराम पंचू को भी शामिल किया गया है. मध्‍यस्‍थता बोर्ड के अध्‍यक्ष एम एफ कलिफुल्‍लाह होंगे. (रिपोर्ट-मोहम्मद शबाब)

ये भी पढ़ें: अयोध्या विवाद सुलझाने के लिए इस स्थान पर बातचीत करेगा पैनल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...