Assembly Banner 2021

Rising UP के मंच पर चुन-चुनकर विपक्षियों पर योगी आदित्यनाथ ने किये हमले, जानिए किसे कहा नमूना?

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर साधा निशाना

Rising UP 2021: राहुल गांधी पर बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राहुल गांधी जैसे लोग नमूना होते हैं और यह रखने के लायक होते हैं. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी कांग्रेस के नए ब्रांड हैं.

  • Share this:
लखनऊ. राइजिंग यूपी (Rising UP 2021) के मंच पर सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने विपक्षी नेताओं पर जमकर हमले बोले. उन्होंने अलग-अलग नेताओं को आज पहली बार अलग-अलग नाम दिया. उन्हें अलग-अलग संज्ञा दी. इसमें न सिर्फ अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) शामिल हैं बल्कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी शामिल है. तो आइए सिलसिलेवार ढंग से जानते हैं कि उन्होंने किस नेता के लिए क्या कहा?

राहुल गांधी पर बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राहुल गांधी जैसे लोग नमूना होते हैं और यह रखने के लायक होते हैं. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी कांग्रेस के नए ब्रांड हैं. हमारे दिवंगत नेता अरुण जेटली ने कभी उनके बारे में कहा था कि वे "मैन विदाउट ब्रेन" हैं. यानी वो अपनी बुद्धि और विवेक से कोई बात नहीं बोलते बल्कि उन्हें जो कुछ समय के लिए सिखाया जाता है वही वह बोलते हैं. जिस परिवार को पांच पीढ़ियों तक उत्तर भारत में सत्ता में रखा उसे उन्होंने लांछित किया है. दक्षिण भारत की जनता यह बखूबी जानती है कि जो राहुल गांधी उत्तर भारत के नहीं हुए तो वे दक्षिण भारत के क्या होंगे.

Youtube Video




प्रियंका गांधी के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी बार-बार मंदिरों के चक्कर इसलिए लगा रही हैं क्योंकि आखिरी समय में जब कोई थक जाता है और निराश हो जाता है तो भगवान की शरण में ही नहीं जाता है. प्रियंका गांधी भी ऐसा ही कर रही हैं.
असदुद्दीन ओवैसीअसदुद्दीन ओवैसी को उन्होंने आत्मा की संज्ञा दी. उन्होंने कहा कि चुनाव के समय ऐसी आत्माएं जागृत हो जाया करती हैं. हालांकि अपने बयान को थोड़ा मधुर करते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव में सभी को उतरने का अधिकार है. योगी आदित्यनाथ से यह सवाल किया गया था कि असदुद्दीन ओवैसी यूपी में कई छोटे दलों से गठबंधन करके चुनाव की तैयारी कर रहे हैं.

अखिलेश यादव पर तो उन्होंने सबसे बड़ा हमला किया. उन्होंने अखिलेश यादव को समाजवाद का बहरूपिया ब्रांड बताया. उन्होंने कहा कि समाजवादियों के बारे में कहा जाता था कि वह संपत्ति और संतति के पीछे नहीं भागते लेकिन आज के समाजवादियों की हालत उल्टी है. समाजवादी आंदोलन बहुत पवित्र हुआ करता था लेकिन अब तो यह बहरूपिया ब्रांड बन कर रह गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज