Assembly Banner 2021

Rising UP 2021: सिद्धार्थनाथ सिंह बोले- योगी मॉडल से आपदा को अवसर में बदला, कोरोना काल में यूपी का निर्यात 32 फीसदी बढ़ा

राइजिंग यूपी के मंच पर पहुंचे मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने यूपी में निवेश पर लेकर की चर्चा

राइजिंग यूपी के मंच पर पहुंचे मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने यूपी में निवेश पर लेकर की चर्चा

Siddharthnath Singh at Rising UP 2021: सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि आज प्रदेश में निवेशकों को बहुत सारी सुविधाएं मिल रही हैं. पहले निवेशक पश्चिम क्षेत्र तक ही सिमित थे, लेकिन आज यह हर क्षेत्र में है.

  • Share this:
लखनऊ. योगी सरकार (Yogi Government) में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह (Siddharthnath Singh) ने कहा कि कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के दौर में भी विकास के 'योगी मॉडल' से आपदा को अवसरों में बदला. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब पूरी दुनिया रुकी हुई थी तो यूपी दौड़ रहा था. इतना ही नहीं इस महामारी के दौर में भी हमने पूरी दुनिया को लुभाया और यूपी बुलाया. आज प्रदेश के निर्यात में 32 फ़ीसदी बढ़ा है. यह सब कुछ मुख्यमंत्री के विज़न से ही संभव हुआ. आज प्रदेश की जीडीपी दोगुनी हो गई है और हम ओने ट्रिलियन  तरफ बढ़ रहे हैं.

राइजिंग यूपी के कार्यक्रम 'निवेशकों को भाया, यूपी पर दिल आया' में पहुंचे एमएसएमई मंत्री सिद्धार्थनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कोरोना काल के दौरान हमें बुलाया और कहा कि जब पूरा विश्व अंधकार में डूबा हुआ है तो ऐसे में चुनौतियों को अवसर में बदलना है. जिसके बाद हमने कई सुधर किए. आज 72 घंटे में उद्योग के लिए लाइसेंस मिल रहा है. इसके अलावा 20 सेक्टर में रिफार्म कर व्यवस्था को सरल बनाया गया. आज जो यूपी में योगी मॉडल है उसका पूरा जोर ग्रामीण सेक्टर पर है, जिससे हम एक ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी के लक्ष्य को हासिल कर रहे हैं. इसके लिए एक जनपद एक उत्पाद योजना गेम चेंजर  साबित हो रही है. आज निवेशक गांवों की तरफ जा रहे हैं.

निवेशकों को मिल रही सुविधाएं
सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि आज प्रदेश में निवेशकों को बहुत सारी सुविधाएं मिल रही हैं. पहले निवेशक पश्चिम क्षेत्र तक ही सिमित थे, लेकिन आज यह हर क्षेत्र में है. बुंदेलखंड से लेकर पूर्वांचल तक निवेशकों को सुविधाएं दी जा रही है. एक्सप्रेसवे बन रहे हैं. अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट बन रहे हैं. पांच तैयार हो गए हैं, जबकि कुछ जल्द ही शुरू होने जा रहे हैं. कनेक्टिविटी अच्छी हुई है. यही वजह है कि निवेशक यहां आ रहे हैं.
600 रुपए किलो में बिकने जा रहा काला नमक चावल 


छोटे मध्यम और लघु उद्योगों के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने राइजिंग इंडिया के कार्यक्रम में कई उद्योगों को सुधारने और संवारने के विषय पर बोलते हुए कहा कि सिद्धार्थ नगर का काला नमक चावल 600 रुपए किलो में बिकने जा रहा है. सिंगापुर के व्यापारी यूपी के दौरे पर आ चुके हैं और उन्होंने इस बात की इच्छा जताई है कि वह बड़े पैमाने पर काला नमक चावल को खरीदना चाहते हैं. इससे जिले के किसानों को अपने चावल का सबसे अधिक दाम मिल सकेगा. उन्होंने कहा कि निवेशकों की भारी फौज यूपी की ओर रुख कर रही है. कोरोना काल में भी हमने इस पर जमकर काम किया है.

निवेशकों को पता अब यूपी में माफिया राज नहीं
निवेशकों को पता है कि अब यूपी में माफिया राज नहीं है. यहां एक अच्छा शासन चलता है. निवेशकों को पहले किसी भी काम को शुरू करने से पहले लोगों की जेबें भरी पर भरनी पड़ती थी लेकिन अब सिस्टम में ट्रांसपेरेंसी आने के कारण यह सिलसिला बंद हो गया है. यही वजह है कि निवेशकों में भरोसा बढ़ा है. सबसे खास बात यह है कि देश और दुनिया के किसी भी इलाके से निवेशकों को यूपी आने के लिए राज्य सरकार ने बड़े पैमाने पर एयरपोर्ट और हाईवेज का जाल बिछाया है. तमाम छोटे-बड़े शहरों में एयरपोर्ट बनाए गए हैं जहां से उड़ाने शुरू हुई हैं.

आज यूपी में 24 घंटे बिजली 
निवेशकों की एक बहुत बड़ी जरूरत बिजली की होती है. उत्तर प्रदेश में अब 24 घंटे बिजली मिल रही है. इससे कल कारखानों के चलाए जाने को लेकर किसी तरीके की कोई समस्या नहीं है. मुरादाबाद के पीतल व्यापारियों के बारे में बोलते हुए सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि मुरादाबाद के पीतल व्यापारी चाइना से मिल रही टक्कर से परेशान होकर उन से मदद मांगने आए थे. उनकी समस्या को सुनकर हमने चाइना की तर्ज पर ही तकनीक का विकास करने के लिए मुरादाबाद के पीतल उद्योग के लिए करोड़ों रुपए का फंड जारी किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज