लाइव टीवी

Rising UP: सीएम योगी बोले-दंगाइयों को छूट नहीं देंगे, जो जैसा बोलेगा, वैसा परिणाम पाएगा

News18Hindi
Updated: January 26, 2020, 12:00 AM IST
Rising UP: सीएम योगी बोले-दंगाइयों को छूट नहीं देंगे, जो जैसा बोलेगा, वैसा परिणाम पाएगा
सीएम योगी ने सीएए सहित राम मंदिर के मुद्दे पर अपनी राय रखी.

लखनऊ में News 18 उत्तरप्रदेश-उत्तराखंड के 'राइजिंग उत्तर प्रदेश' (Rising UP) कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Aditya nath) पहुंचे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2020, 12:00 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. यूपी की राजधानी लखनऊ में News 18 उत्तरप्रदेश-उत्तराखंड के 'राइजिंग उत्तर प्रदेश' (Rising UP) कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Aditya nath) पहुंचे. सीएम योगी ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा, संविधान पर सवाल वही उठा रहे हैं जो विभाजन के लिए जिम्‍मेदार हैं. 4 करोड़ लोगों के घर बिजली पहुंचाई. 8 करोड़ लोगों को रसोई गैस पहुंचाई गई. 60 करोड़ लोगों को आयुष्‍मान का फायदा मिला. ये हमने बिना धर्म के किया.  वोट बैंक वालों ने कानून को तोड़ना शुरू किया है. उन लोगों का जोश नकली है. इस कार्यक्रम में सीएम योगी ने सीएए से लेकर राम मंदिर जैसे मुद्दों पर अपनी राय रखी.

जुर्माना वसूलने पर योगी ने कहा, पब्‍लिक प्रॉपर्टी में मेरे घर का पैसा नहीं लगा. इसकी सुरक्षा हमारी जिम्‍मेदारी है. हमें देश को आगे बढ़ाना है तो हर व्‍यक्‍ति को संरक्षक की जिम्‍मेदारी निभानी चाहिए. मैंने सबसे ज्‍यादा पैसा बिना भेदभाव के सीएम राहत कोष से दिया है. सीएम राहत कोष का जो पैसा हमने दिया है, उसे बिना भेदभाव के दिया है. लेकिन अगर यूपी की संपत्‍ति को नुकसान पहुंचाएग.

धरना करना है तो अनुमति लें
आपको धरना प्रदर्शन करना है तो करें, लेकिन लोगों के आमजन के जीवन को बाधित नहीं कर सकते. आप उपद्रव करके रहना चाहते हैं तो हम वही करेंगे, जो सही होगा.

देशद्रोहियों खाद पानी नहीं लेने देंगे
प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव के सीएए पर विरोध और बयानों पर सीएम योगी ने कहा, इन लोगों ने अब तक देश को खूब लूटा है. लेकिन हमें ये पैसा खजाने में लाना है. हम इन्‍हें ऐसा कोई काम नहीं करने देंगे, जो देशद्रोहियों को खाद पानी का काम करे.



विपक्ष बेरोजगार
विपक्ष के पास कोई काम नहीं है. वह बेरोजगार है. उसे पता है तीन तलाक की सच्‍चाई लोगों तक पहुंच गई तो इनका कुछ नहीं हो पाएगा. मैंने तलाकशुदा महिलाओं का सम्‍मेलन बुलाया था. उसमें मैंने उनकी तकलीफों को जाना. हमने उसमें महिलाओं की तकलीफों के बारे में जाना.

राम मंदिर और अनुच्‍छेद 370 पर हमारा फैसला देख लीजिए
राममंदिर पर योगी ने कहा, लोग कहते थे राम मंदिर पर फैसले के दिन खून की नदियां बहेंगी. लेकिन हमने कहा था एक मच्‍छर नहीं मरेगा. उस दिन यूपी का सबसे शांत दिन था. अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद देख लीजिए कि एक भी निर्दोष व्‍यक्‍ति की जान नहीं गई.

देश विरोधी बयान पर योगी ने कहा, जो जैसा बोलेगा, वह वैसे ही परिणाम पाएगा. ओवैसी के बयान पर सीएम ने कहा, हमारे देश ने हर प्रताड़ित कौम को शरण दी है. उनको भय है कि उनकी दुकानें बंद होने वाली हैं.

कब शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण
इस पर सीएम योगी ने कहा, तीन महीने के अंदर काम शुरू होने जाएगा. अभी से इसके लिए अभी से लोग पैसे भेजने लगे हैं.

गंगा की सफाई पर बोले योगी
गंगा की साफ सफाई पर हमने उल्‍लेखनीय काम किया है. इसकी पुष्‍टि तब हुई जब इस बार के कुंभ में मॉरीशस के पीएम ने गंगा में अपने पूरे डेलिगेशन के साथ स्‍नान किया. जबकि इससे पहले वह आए थे, तो बिना नहाए चले गए थे. कानपुर में पहले 14 करोड़ लीटर सीवेज गंगा में गिरता था, लेकिन अब वहां गंगा अविरल है.

हमें यूपी की अर्थव्‍यवस्‍था को 1 करोड़ ट्रिलियन डॉलर बनानी होगी
सीएम योगी ने  कहा, अगर हमें 5 करोड़ ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनना है तो यूपी को 1 करोड़ ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्‍यवस्‍था बनाना होगा. यूपी सबसे बड़ा बाजार है. आजादी के समय हमारी प्रति व्‍यक्‍ति आय देश की आय के बराबर थी, लेकिन अब वह आधी हो गई.

पूर्वांचल एक्‍सप्रेस बनाने में हम 3 हजार करोड़ बचा रहे हैं
सीएम योगी ने कहा, प्रदेश में कानून व्‍यवस्‍था से ही जब जुड़ा है. हमने फिजूलखर्ची को रोका है. वित्‍तीय अनुशासन हमने बनाए रखा. हम सबसे बड़ा एक्‍सप्रेस वे बनाने जा रहे हैं. हर जिले को फोर लेन से जोड़ रहे हैं. पूर्व की सरकार की तरह हम 340 किमी पूर्वांचल एक्‍सप्रेस बना रहे हैं. पहले इस पर 15 हजार 200 करोड़ रुपए खर्च हो रहे थे, लेकिन हम इसे 11 हजार 800 करोड़ में बना रहे हैं. इसमें हम 3 हजार करोड़ बचा रहे हैं.

इससे पहले सीएम योगी ने रिमोट दबाकर यूपी उत्‍तराखंड न्‍यूज18 के नए कलेवर का शुभारंभ किया. योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, लोकतंत्र का महत्‍वपूर्ण आधार मीडिया है. हमें अपने कामों को लोगों तक पहुंचाने के लिए इसका सहारा लेना पड़ता है. लक्ष्‍य हमारा एक है, रास्‍ते अलग हैं. संविधान के अधिकारों के साथ साथ उसके दायित्‍वों के प्रति हम जागरुक हों.


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 8:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर