Home /News /uttar-pradesh /

बेटे के लिए मां का त्याग : 'मयंक को टिकट दे दीजिए, मैं इस्तीफा दे दूंगी', रीता बहुगुणा जोशी ने जेपी नड्डा को खत लिख लगाई गुहार

बेटे के लिए मां का त्याग : 'मयंक को टिकट दे दीजिए, मैं इस्तीफा दे दूंगी', रीता बहुगुणा जोशी ने जेपी नड्डा को खत लिख लगाई गुहार

Rita Bahuguna Joshi News: रीता बहुगुणा जोशी बेटे के लिए पद त्यागने को तैयार हैं.

Rita Bahuguna Joshi News: रीता बहुगुणा जोशी बेटे के लिए पद त्यागने को तैयार हैं.

Rita Bahuguna Joshi News: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2020) में बेटे को टिकट दिलाने के लिए भारतीय जनता पार्टी की सांसद रीता बहुगुणा जोशी (Rita Bahuguna Joshi) सांसद के पद से इस्तीफा देने को तैयार हो गई हैं. भाजपा सांसद रीता बहुगुणा (Rita Bahuguna Joshi News) ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को एक पत्र लिखकर यह प्रस्ताव दिया है कि अगर उनके बेटे मयंक जोशी को लखनऊ कैंट से टिकट दी जाती है तो वह सांसद के पद से इस्तीफा दे देंगी.

अधिक पढ़ें ...

    लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2020) में बेटे को टिकट दिलाने के लिए भारतीय जनता पार्टी की सांसद रीता बहुगुणा जोशी (Rita Bahuguna Joshi) सांसद के पद से इस्तीफा देने को तैयार हो गई हैं. भाजपा सांसद रीता बहुगुणा (Rita Bahuguna Joshi News) ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को एक पत्र लिखकर यह प्रस्ताव दिया है कि अगर उनके बेटे मयंक जोशी को लखनऊ कैंट से टिकट दी जाती है तो वह सांसद के पद से इस्तीफा दे देंगी. बता दें कि शुरू से ही रीता बहुगुणा जोशी अपने बेटे के लिए टिकट की मांग कर रही हैं.

    समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि वह (बेटा मयंक जोशी) 2009 से काम कर रहे हैं और उन्होंने इसके लिए (लखनऊ कैंट से टिकट) आवेदन किया है. लेकिन अगर पार्टी ने प्रति परिवार केवल 1 व्यक्ति को टिकट देने का फैसला किया है, तो मयंक को टिकट मिलने पर मैं अपनी वर्तमान लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दूंगी.

    उन्होंने कहा कि मैंने यह प्रस्ताव बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर दिया है. मैं हमेशा बीजेपी के लिए काम करती रहूंगी. पार्टी मेरे प्रस्ताव को स्वीकार करने या न करने का विकल्प चुन सकती है. मैंने कई साल पहले ही घोषणा कर दी थी कि मैं चुनाव नहीं लड़ूंगी. दरअसल, सूत्रों की मानें तो भाजपा ऐसे लोगों को टिकट नहीं देना चाहती है जिसके परिवार में पहले से कोई मंत्री अथवा सांसद है. पार्टी के एक परिवार एक टिकट नीति को देखते हुए रीता बहुगुणा जोशी के बेटे की दावेदारी पर संशय के बादल मंडरा रहे हैं.

    यूपी में कब-कब है वोटिंग
    बता दें कि उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों के लिए सात चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होगा. उत्तर प्रदेश में अन्य चरणों में मतदान 14, 20, 23, 27 फरवरी, 3 और 7 मार्च को होगा. वहीं यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे. 2017 के चुनाव में बीजेपी ने यहां की 403 में से 325 सीटों पर जीत दर्ज की थी. सपा और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. सपा ने 47 और कांग्रेस ने 7 सीटें ही जीती थीं. मायावती की बसपा 19 सीटें जीतने में कामयाब रही थी. वहीं 4 सीटों पर अन्य का कब्जा हुआ था.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर