अपना शहर चुनें

States

राम मंदिर निर्माण पर विहिप की धर्मसभा के लिए RSS और बीजेपी ने झोंकी ताकत

विहिप . Photo: News 18
विहिप . Photo: News 18

एक तरह से अयोध्या में भारी भीड़ जमा करने के लिए विहिप के साथ बजरंग दल, बीजेपी, आरएसएस सभी एक साथ जुड़े दिख रहे हैं. जानकारों का कहना है कि जिस तरह की तैयारी है, इससे 25 नवंबर को अयोध्या का माहौल बेहद गर्म हो सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2018, 2:00 PM IST
  • Share this:
राम मंदिर निर्माण को लेकर अयोध्या में 25 नवंबर को होने वाली धर्म संसद भले ही विश्व हिंदू परिषद के बैनर तले हो रही हो. लेकिन इसकी सफलता के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और बैकडोर से बीजेपी संगठन ने भी पूरी ताकत झोंक दी है. बीजेपी सूत्रों के अनुसार चाहे वह बीजेपी के सांसद, विधायक हों या कार्यकर्ता सभी को इस आयोजन में व्यक्तिगत स्तर पर अधिक से अधिक संख्या के साथ शामिल होने का फरमान सुनाया गया है.

एक तरह से अयोध्या में भारी भीड़ जमा करने के लिए विहिप के साथ बजरंग दल, बीजेपी, आरएसएस सभी एक साथ जुड़े दिख रहे हैं. जानकारों का कहना है कि जिस तरह की तैयारी है, इससे 25 नवंबर को अयोध्या का माहौल बेहद गर्म हो सकता है.

राम मंदिर के लिए अयोध्या में धर्मसभा से पहले बाइक रैलियां निकाल माहौल बनाने में जुटी VHP



रविवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के अलग-अलग चौराहों पर विश्व हिन्दू परिषद ने 'चलो अयोध्या संकल्प बाइक रैली' निकाली. शहर के कई जगहों से एक साथ निकली इस बाइक रैली में बीजेपी और संघ से जुड़े लोग भी बढ़चढ़कर हिस्सा लेते दिखे. इस मौके पर प्रांत सह कार्यवाह प्रशांत भाटिया ने कहा कि लोगों की भावनाओं को सुप्रीम कोर्ट को भी कद्र करनी चाहिए, जब लोग जागरुक होंगे तभी राममंदिर कोर्ट के प्राथमिकता में आएगा. इस मौके पर विहिप के पदाधिकारियों ने कहा कि मोटरसाइकिल की रैली निकालने के पीछे उद्देश्य है कि जागरुकता गली-गली में फैले.
उधर इस संबंध में जब डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य से पूछा गया कि विहिप के इस कार्यक्रम में क्या सरकार की तरफ से भी कोई शामिल होगा. इस पर डिप्टी सीएम ने कहा कि ये कोई सरकारी आयोजन नहीं है. हां, रामभक्त जो भी होगा, वह इस कार्यक्रम में शामिल हो सकता है, उस पर कोई रोक नहीं है.

VHP ने सुप्रीम कोर्ट पर साधा निशाना, कहा- न्यायालय जनभावना की उपेक्षा नहीं कर सकती

बता दें 25 नवंबर को अयोध्या में विश्व हिंदू परिषद धर्मसभा का आयोजन कर रही है. आयोजन का लक्ष्य राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार पर दबाव डालना है. विहिप का दावा है कि इस आयोजन में लाखों लोग शामिल होंगे, अब ये बाइक रैली उसी कवायद का हिस्सा मानी जा रही है.

इस संबंध में भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात मिश्र ने ट्विटर पर आह्वान किया है कि प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के लिये चलो अयोध्या 25 नवम्बर विशाल धर्म सभा में.

 



अपने इस आह्वान पर अभिजात कहते हें कि राम जन्म भूमि हमारे लिए मान सम्मान का विषय है. राम मंदिर निर्माण पर संकल्प बद्ध होकर जाएंगे. हर कीमत 2019 से पहले ही शुरू कराएंगे. वहीं पार्टी की तरफ से कोई निर्देश मिला है, इस पर अभिजात ने कहा कि ऐसा कोई निर्देश नहीं है, यह आह्वान वह अपनी आस्था के आधार पर कर रहे हैं.

उधर अयोध्या में भी बीजेपी की तरफ से पहले तो 14 कोसी परिक्रमा में आए लाखों श्रद्धालुओं को पत्रक बांटे गए. इसके बाद अब पंचकोशी परिक्रमा में भी आए श्रद्धालुओं को पत्रक बांटकर कर धर्म संसद में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जा रहा है. अयोध्या से विधायक वेद प्रकाश गुप्ता, गोसाईगंज के भाजपा विधायक रामचंद्र यादव, अयोध्या महानगर के अध्यक्ष कमलेश श्रीवास्तव पत्रक बांटते दिखे. पत्रक में नारा भी दिया गया है कि 25 नवंबर चलो अयोध्या. पत्रक में दर्शाया गया है की सौगंध राम की खाते हैं हम मंदिर भव्य बनाएंगे.

Ayodhya BJP
धर्मसभा के लिए पत्रक बांटते बीजेपी नेता. Photo: News 18


खास बात ये है कि पत्रक में सुप्रीम कोर्ट को निशाने पर लिया गया है लेकिन कहीं भी केंद्र व प्रदेश सरकार की बुराई नहीं की गई है. केंद्र सरकार का बचाव करते हुए विश्व हिंदू परिषद के नेताओं ने पत्रक में न्यायालय जन भावनाओं की अनंत काल तक उपेक्षा नहीं कर सकता. विडंबना है कि देश की सबसे बड़ी अदालत की दृष्टि में कोटि कोटि हिंदू समाज का श्रद्धा केंद्र श्रीराम जन्मभूमि प्राथमिकता में नहीं है. सारी बातों को पत्रक में लिखा गया लेकिन कहीं भी केंद्र और प्रदेश सरकार को आड़े हाथों नहीं लिया गया है. लोगों से आह्वान किया गया है कि सभी राम भक्त भारी संख्या में अयोध्या पहुंचकर राम मंदिर निर्माण में सहयोग प्रदान करें और पूज्य के भागी बने.

ये भी पढ़ें:

Video: राम जन्मभूमि पर वसीम रिजवी ने बनाई फिल्म, लांच किया ट्रेलर

वाराणसी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लगी आग, यात्रियों में मची अफरातफरी

कानून-व्यवस्था को लेकर एक्शन में सीएम योगी, अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई के आदेश

यूपी की इस पानी की टंकी पर 'सेल्फी' लेना मना है, जानिए क्यों?

यूपी के आंगनवाड़ी केंद्रों में बड़ा घोटाला, पंजीकृत हैं 14 लाख से ज्यादा ‘फर्जी बच्चे’

योगी सरकार में यूपी पुलिस की दूसरी बंपर भर्ती शुरू, 8 दिसंबर तक कर सकते हैं आवेदन

यूपी के सरकारी स्कूलों का हाल, कहीं 11 बच्चों पर 3 टीचर तो कहीं मिड डे मील में करोड़ों का 'खेल'

हमीरपुर: छेड़खानी का विरोध करने पर किशोरी को जिंदा जलाया
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज