लाइव टीवी

अखिलेश यादव ने लखनऊ सहित 15 जिलों के घोषित किए सपा जिलाध्यक्ष, देखें पूरी लिस्ट

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 28, 2019, 5:57 PM IST
अखिलेश यादव ने लखनऊ सहित 15 जिलों के घोषित किए सपा जिलाध्यक्ष, देखें पूरी लिस्ट
समाजवादी पार्टी ने लखनऊ सहित 15 जिलों के जिलाध्यक्ष घोषित कर दिए हैं.

प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के अनुसार मैनपुरी, इटावा, औरैया, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, गाजियाबाद, बस्ती, मथुरा, लखनऊ, जालौन, बुलंदशहर, उन्नाव, कानपुर ग्रामीण, बरेली और गोंडा जिलों के अध्यक्ष घोषित किए गए हैं.

  • Share this:
लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के जिलाध्यक्ष घोषित कर दिए हैं. प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के अनुसार मैनपुरी, इटावा, औरैया, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, गाजियाबाद, बस्ती, मथुरा, लखनऊ, जालौन, बुलंदशहर, उन्नाव, कानपुर ग्रामीण, बरेली और गोंडा जिलों के अध्यक्ष घोषित किए गए हैं.

इनमें जय सिंह जयंत को लखनऊ, दीप सिंह पाल को मैनपुरी, गोपाल यादव को इटावा,राजवीर सिंह को औरैया, प्रमोद त्यागी को मुजफ्फरनगर, रुद्रसेन चौधरी को सहारनपुर का जिला अध्यक्ष बनाया गया है. इनके अलावा महेंद्र यादव बस्ती, राशिद मलिक गाजियाबाद, लोकमणि जादौन मथुरा, नवाब सिंह जालौन, अमजद गुड्डू बुलंदशहर, धर्मेंद्र सिंह यादव उन्नाव, राघवेंद्र सिंह कानपुर ग्रामीण, अगम मौर्य बरेली और आनंद स्वरूप यादव गोंडा जिलाध्यक्ष बनाए गए हैं.

SP Jiladhyaksh
समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्षों की लिस्ट


अखिलेश ने किसानों के मुद्दों पर बीजेपी सरकार को घेरा

उधर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि आज किसान अगर बदहाल है तो इसके लिए भाजपा सरकार की गलत नीतियां जिम्मेदार हैं. भाजपा सरकार ने किसानों के फायदे के कदम तो उठाए नहीं, उन्हें बस झूठे वादों से बहकाते रहे हैं. किसानों की जमींनें छीनकर उन्हें बेघर और बेरोजगार बनाया जा रहा है. भाजपा सरकार अगर किसानों की अधिगृहीत जमींन का उचित मुआवजा नहीं दे सकती है तो उनकी जमींनें वापस कर देनी चाहिए. उन्होंने कहा भाजपा सरकार गलत लोगों की है, इसे हटना चाहिए.

अखिलेश यादव आज पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में गोंडा से बड़ी संख्या में आए किसानों की व्यथाकथा सुनने के बाद उन्हें सम्बोधित कर रहे थे. इस दौरान पूर्वमंत्री योगेश प्रताप सिंह और पूर्व विधायक बैजनाथ दुबे ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को गोंडा में सरयू नहर खण्ड प्रथम द्वारा वाजिब मुआवजा न दिए जाने के सम्बंध में एक ज्ञापन भी सौंपा.

ये भी पढ़ें:
Loading...

खनन घोटाला: सीबीआई का सपा सरकार में हुए 14 पट्टों पर मुख्य फोकस

बाप बनता था फर्जी इंस्पेक्टर और बेटा सिपाही, 5 साल में कीं 100 से ज्यादा लूट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 5:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...