Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: चुनाव से पहले सपा ने 4 जिलाध्यक्ष मनोनीत किए, जानें किसे मिली योगी के गढ़ में कमान

UP Chunav 2022: चुनाव से पहले सपा ने 4 जिलाध्यक्ष मनोनीत किए, जानें किसे मिली योगी के गढ़ में कमान

अखिलेश यादव ने पिछले साल कई जिलाध्यक्षों को बर्खास्‍त कर दिया था.

अखिलेश यादव ने पिछले साल कई जिलाध्यक्षों को बर्खास्‍त कर दिया था.

Samajwadi Party News: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) से पहले समाजवादी पार्टी ने अपने चार नए जिलाध्यक्ष मनोनीत किए हैं. इस दौरान यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ के गढ़ गोरखपुर में अवधेश यादव का पार्टी की कमान सौंपी गयी है. वहीं, गोरखपुर शहर अध्‍यक्ष के रूप में के के त्रिपाठी को नई जिम्‍मेदारी मिली है. बता दें कि जिला पंचायत चुनाव में सपा प्रत्‍याशियों के पर्चा दाखिल नहीं करने की वजह से समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कई जिलाध्यक्ष बर्खास्‍त कर दिए थे.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) से पहले समाजवादी पार्टी ने संगठन में बड़ा बदलाव करते हुए 4 जिलाध्यक्ष मनोनीत किए हैं. दरअसल सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने पिछले साल हुए जिला पंचायत चुनाव के दौरान गोरखपुर और मऊ समेत कई जिलों में अध्‍यक्ष पद के लिए अपने प्रत्‍याशियों के पर्चा नहीं भरपाने की वजह से जिलाध्यक्षों को बर्खास्‍त कर दिया था. इस दौरान गोरखपुर के शहर अध्‍यक्ष को भी अपनी कुर्सी से हाथ धोना पड़ा था.

सपा के प्रदेश अध्‍यक्ष नरेश उत्‍तम पटेल के मुताबिक, यूपी विधानसभा चुनाव के बीच सपा ने गोरखपुर की कमान अवधेश यादव को सौंपी है. इसके अलावा गोरखपुर शहर की जिम्‍मेदारी के के त्रिपाठी को दी गयी है. वहीं, देवेंद्र जाखड़ को हापुड़, कैलाश यादव को ललितपुर और दूधनाथ को मऊ का जिलाध्यक्ष बनाया गया है. बता दें कि ललितपुर जिलाध्यक्ष को एक युवती द्वारा रेप का आरोप लगाने के बाद हटाया गया था.

Samajwadi Party, UP Election 2022, Gorakhpur, Akhilesh Yadav, गोरखपुर, अखिलेश यादव, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections,

गोरखपुर की कमान अवधेश यादव को सौंपी गयी है.

इन 11 जिलाध्यक्षों को किया गया था बर्खास्त
पंचायत चुनाव में नाकामी के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गोरखपुर, मुरादाबाद, झांसी, आगरा, गौतमबुद्ध नगर, मऊ, बलरामपुर, श्रावस्ती, भदोही, गोंडा और ललितपुर के जिलाध्यक्षों को तत्काल प्रभाव से पद से हटा दिया था. हालांकि इसके कुछ समय बाद जिला पंचायत चुनाव के दौरान हटाए गए मुरादाबाद के धर्मपाल उर्फ डीपी और श्रावस्ती में सर्वजीत को भी बहाल कर दिया गया था. बता दें कि इस बार समाजवादी पार्टी ने चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. वहीं, पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने एक बार फिर पूर्ण बहुमत के साथ सत्‍ता में वापसी की उम्‍मीद जताई है.

हालांकि इस वक्‍त दल बदल का खेल जा रही है. इस बीच भाजपा को सबसे अधिक नुकसान हुआ है. दरअसल तीन मंत्रियों समेत 11 विधायकों ने पार्टी का साथ छोड़ दिया है. इनमें से अधिकांश ने सपा का दामन थामा है.

भाजपा का साथ छोड़ने वाले विधायक और मंत्री
1. स्वामी प्रसाद मौर्य (मंत्री)
2. भगवती सागर
3. रोशनलाल वर्मा
4. विनय शाक्य
5.अवतार सिंह भाड़ाना
6.दारा सिंह चौहान (मंत्री)
7.बृजेश प्रजापति
8.मुकेश वर्मा
9.राकेश राठौर
10.जय चौबे
11.माधुरी वर्मा
12.आर के शर्मा
13. बाला प्रसाद अवस्थी
14. डॉ धर्म सिंह सैनी (मंत्री)

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, UP news, Uttar Pradesh Assembly Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर