माया की तरह अखिलेश भी बोले- तेल के बढ़ते दामों के लिए केंद्र की सारी सरकारें जिम्मेदार

बीजेपी के जातिगत सम्मेलन अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी तो सब कुछ है. उनके मंत्री खुद ही बोलते हैं कोर्ट भी हमारा, सरकार भी हमारी, कार्यपालिका भी हमारी, विधायिका भी हमारी. बीजेपी से ज्यादा जातिवादी पार्टी कोई नही है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 1:48 PM IST
माया की तरह अखिलेश भी बोले- तेल के बढ़ते दामों के लिए केंद्र की सारी सरकारें जिम्मेदार
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ( File Photo)
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 1:48 PM IST
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी बसपा सुप्रीमो मायावती की तरह पेट्रोल और डीजल की बढ़ती ​कीमतों पर केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी और पूर्व की कांग्रेस सरकार को कटघरे में खड़ा किया है. मायावती के बयान पर अखिलेश यादव ने कहा कि डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दामों के लिए केंद्र में बैठी सारी सरकारें जिम्मेदार हैं.

बता दें मंगलवार को ही बसपा सुप्रीमो मायावती ने 10 सितम्बर को पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर भारत बंद पर कांग्रेस और बीजेपी दोनों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार की गलत आर्थिक नीतियों को केंद्र की मोदी सरकार ने आगे बढ़ाया, जिसकी वजह से आज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हो गई है.

वहीं बीजेपी के जातिगत सम्मेलन अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी तो सब कुछ है. उनके मंत्री खुद ही बोलते हैं कोर्ट भी हमारा, सरकार भी हमारी, कार्यपालिका भी हमारी, विधायिका भी हमारी. बीजेपी से ज्यादा जातिवादी पार्टी कोई नही है.

इस दौरान अखिलेश ने सूबे के स्वास्थ्य महकमे पर सवाल उठाते हुए कहा​ कि यहां नर्सिंग इंजेक्शन लगा देती हैं. महिलाओं की मौत हो जाती है. बीमारों को लेकर सरकार गंभीर नहीं है. पता नहीं इंजेक्शन में दवा थी या पानी उसका जवाब सरकार दे.

अखिलेश यादव ने कहा कि पूरे देश मे जनता जानती है कि कौन झूठ बोल रहा है. महंगाई बढ़ती जा रही है. जब सब लोग सड़क पर थे, उसी समय पेट्रोल-डीजल का दाम बढ़ा दिया. महंगाई के लिए केंद्र सरकारें जिम्मेदार हैं.

मंगलवार को पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सपा की नव साइकिल यात्रा का स्वागत किया. ये साइकिल यात्रा वाराणसी से लखनऊ पहुंची है. इनका राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सपा दफ्तर में स्वागत किया. इस दौरान सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरणमय नन्दा ने कहा कि जो नौजवान चाहेगा, वही हिन्दुस्तान में होगा. लोकतंत्र बचाओ, बीजेपी को हटाओ. हम बीजेपी को रोक लेंगे तो बीजेपी की सरकार नहीं आएगी.

इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि जिस संकल्प को लेकर आप साइकिल चलायें हैं. वह संकल्प 2019 और 2022 में पूरा होगा. बीजेपी कहती है आने वाले 50 साल तक बीजेपी की सरकार रहेंगी. सरकार के फ़ैसलों ने लोगों को गुस्से में किया. नोटबंदी से पूरा देश परेशान हुआ. जनता इंतजार कर रही है कि कब उन्हें वोट डालने का मौका मिलेगा. 41 हजार पुलिस की नौकरी की भर्ती रोक दी गई. 40 लाख नौजवानों को इन्वेस्टर मीट से रोजगार देंगे. नौजवान अयोग्य नहीं हैं, सरकार अयोग्य है.

ये भी पढ़ें: 

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के लिए कांग्रेस और बीजेपी बराबर की जिम्मेदार: मायावती

मिशन 2019 के लिए पीके की तरह अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी को मिला 'AK'!

जिस मंच से विवेकानंद ने दिया था भाषण, 125 साल बाद वाराणसी के शख्स को मिला मौका

यूपी पुलिस के शस्त्रागार में अब नहीं रहेगी दूसरे विश्व युद्ध की एनफील्ड राइफल
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर