नोटबंदी के बाद जाली नोटों की संख्या का 10 गुना बढ़ जाना बेहद चिंताजनक: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने शुक्रवार को ट्वीट (Tweet) कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधा है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 13, 2019, 11:49 AM IST
नोटबंदी के बाद जाली नोटों की संख्या का 10 गुना बढ़ जाना बेहद चिंताजनक: अखिलेश यादव
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने . नोटबंदी के समय जाली नोटों का जो तर्क दिया गया था वो भी अब जाली साबित हो गया है.
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 13, 2019, 11:49 AM IST
लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने शुक्रवार को ट्वीट (Tweet) कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधा है. उन्होंने एक खबर का हवाला देते हुए ये ट्वीट किया है. ट्वीट में अखिलेश यादव ने लिखा है,” नोटबंदी के बाद के दो सालों में जाली नोटों की संख्या का दस गुना बढ़ जाना बेहद चिंताजनक विषय है. नोटबंदी के समय जाली नोटों का जो तर्क दिया गया था वो भी अब जाली साबित हो गया है. अब भाजपा का सच सामने आने लगा है.”

ak tweet
अखिलेश यादव का ट्वीट


इससे पहले अखिलेश ने ट्वीट कर बिजली के दामों में बढ़ोत्तरी के लिए बीजेपी के विरोध पर निशाना साधा था. उन्होंने लिखा, “उप्र में बिजली के दरों में बढ़ोतरी और प.बंगाल में महंगी बिजली के विरोध में भाजपा का प्रदर्शन! भाजपा शासित राज्यों में जनता से पैसे उगहाने के हर हथकंडे पर चुप्पी साधना व अन्य राज्यों में हल्लाबोलना भाजपा के दोहरे चरित्र का नाटक है. लेकिन भाजपा याद रखे हर नाटक का अंत होता है.”

वहीं बीजेपी शासित राज्यों द्वारा चालान के नए नियमों के विरोध पर भी अखिलेश यादव ने एक ट्वीट कर सरकार पर तंज कसा था. उन्होंने लिखा, "भाजपा शासित राज्यों द्वारा चालान के नये नियमों को न मानना दर्शाता है कि ये सच में कितने जनविरोधी व दमनकारी हैं, तभी तो उन राज्यों की इतनी हिम्मत हुई कि वो “सख़्त फ़ैसले” लेने वाले तथाकथित “निर्णायक नेतृत्व” को चुनौती दे सकें. ये भाजपा में ‘अतिकेंद्रीकरण’ के विरोध की शुरुआत है."

ये भी पढ़ेंं:

लॉ छात्रा यौन शोषण मामले में चिन्मयानंद नजरबंद, दिव्य धाम का बेडरूम किया गया सील
आजम खान से मिलने जा रहे अखिलेश के प्रोग्राम में जिला प्रशासन ने किया बदलाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 11:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...