Home /News /uttar-pradesh /

शासक केवल ‘प्रयागराज’ नाम बदलकर अपना काम दिखाना चाहते हैं: अखिलेश यादव

शासक केवल ‘प्रयागराज’ नाम बदलकर अपना काम दिखाना चाहते हैं: अखिलेश यादव

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को किए अपने ट्वीट में लिखा है कि राजा हर्षवर्धन ने अपने दान से ‘प्रयाग कुम्भ’ का नाम किया था और आज के शासक केवल ‘प्रयागराज’ नाम बदलकर अपना काम दिखाना चाहते हैं.

    समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को इलाहाबाद का नाम प्रयाग राज किए जाने पर योगी सरकार पर तंज कसा. इसके अलावा उन्होंने अर्ध कुंभ को भी कुंभ किए जाने के सरकार के कदम को परंपरा और आस्था से खिलवाड़ करार दिया.

    अखिलेश यादव ने सोमवार को किए अपने ट्वीट में लिखा है कि राजा हर्षवर्धन ने अपने दान से ‘प्रयाग कुम्भ’ का नाम किया था और आज के शासक केवल ‘प्रयागराज’ नाम बदलकर अपना काम दिखाना चाहते हैं. इन्होंने तो ‘अर्ध कुम्भ’ का भी नाम बदलकर ‘कुम्भ’ कर दिया है. ये परम्परा और आस्था के साथ खिलवाड़ है.

     



    बता दें इससे पहले इलाहाबाद का नाम प्रयागराज किये जाने के सरकार के प्रस्ताव को समाजवादी पार्टी राजनैतिक फैसला करार दे चुकी है. समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता निधि यादव का कहना है कि प्रदेश सरकार जनता को मुद्दों से भटकाने के लिये नाम बदलने की राजनीति कर रही है. वहीं समाजवादी पार्टी के एमएलसी वासुदेव यादव ने इसे जनता के असल मुद्दों से ध्यान भटकाने का एक राजनैतिक फैसला कहा है. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार जनता का गरीबी और बेरोजगारी के मुद्दे से भटकाने के लिये, समय-समय पर नाम बदलने का काम करती है.

    उधर फूलपुर लोकसभा सीट से सपा सांसद नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल ने इलाहाबाद शहर का नाम बदलकर प्रयाग राज किए जाने के फैसले के विरोध का ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि नाम बदलने से बेहतर कुंभ के नाम पर उजाड़े गए लोगों को बसाना जरूरी है. सपा सांसद ने आरोप लगाया है कि भाजपा ने जनता का विश्वास खो दिया है. इसलिए दोबारा विश्वास हासिल करने के लिए इस तरह के काम कर रही है. सपा सांसद ने इलाहाबाद का नाम बदलकर बीजेपी पर राजनीतिक फायदा लेने का भी आरोप लगाया है.

    बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुंभ मेले से पहले इलाहाबाद का नाम प्रयागराज करने का आश्वासन दिया है. सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत के दौरान सीएम योगी ने कहा कि इसके लिए प्रस्ताव आया है. राज्यपाल राम नाईक ने इस पर सहमति जताई है. प्रदेश सरकार इसके लिए जल्द ही प्रयास करेगी. बताया जा रहा है कि आगामी कैबिनेट बैठक में जिले के नाम को बदलने की मंजूरी सरकार दे सकती है.

    सीएम योगी ने कहा, 'उत्तर प्रदेश सरकार ने भी इस प्रस्ताव को मान लिया है और जल्द ही इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया जाएगा.' योगी ने कहा, 'गंगा और यमुना दो पवित्र नदियों के संगम का स्थल होने के नाते इलाहाबाद में सभी प्रयागों का राज है, इसलिए इलाहाबाद को प्रयागराज भी कहते हैं. अगर सब की सहमति होगी तो इलाहाबाद को प्रयागराज के रूप में ही जाना जाएगा.'

    ये भी पढ़ें: 

    कुंभ मेले से पहले इलाहाबाद का नाम बदलकर होगा 'प्रयागराज', राज्यपाल ने जताई सहमति

    इलाहाबाद का नाम बदलने पर शुरू हुई सियासत, सपा सांसद ने जताया विरोध

    इलाहाबाद का नाम प्रयागराज करना एक राजनैतिक फैसला: समाजवादी पार्टी

     

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Akhilesh yadav, Allahabad Kumbh Mela, Allahabad news, Lucknow news, News 18 Hindi Special, Samajwadi party, Up news in hindi, Uttarpradesh news, लखनऊ

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर