गठबंधन के पीएम चेहरे पर बोले अखिलेश यादव-हमारे पास कई च्वाइस, बीजेपी अपनी बताए
Lucknow News in Hindi

गठबंधन के पीएम चेहरे पर बोले अखिलेश यादव-हमारे पास कई च्वाइस, बीजेपी अपनी बताए
सपा प्रमुख अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

अखिलेश यादव ने कहा कि जहां तक नेता की बात है तो लोग देख रहे हैं कि हमारे पास कितने च्वाइस हैं. देश नए प्रधानमंत्री की तैयारी कर रहा है. बीजेपी के पास कोई नया प्रधानमंत्री है तो बताएं.

  • Share this:
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को सपा बसपा गठबंधन के नेता के मुद्दे पर कहा कि देश नए प्रधानमंत्री की तैयारी कर रहा है. बीजेपी के पास कोई नया प्रधानमंत्री है तो बताएं. हमारे पास तो कई च्वाइस हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि कहा जा रहा है कि दुनिया में भारत का डंका बज रहा है. दुनिया में सबसे ज्यादा बेरोजगार भारत में ही रहते हैं. इसका भी डंका बज रहा है. हेल्थ इंडीकेटर्स पर जाएं और बीमारियों पर चर्चा करें तो कई स्टडी बताती हैं कि दुनिया में सबसे ज्यादा बीमारी भारत में फैल रही हैं. इसका भी डंका बज रहा है.

यूपी के साधु-संतों को भी पेंशन देगी योगी सरकार, लोकसभा चुनाव पर टिकी नजर

अखिलेश यादव ने कहा कि कई रिपोर्ट बता रही हैं कि सबसे ज्यादा कैंसर पीड़ित भारत में ही है. आने वाले समय में सबसे ज्यादा कैंसर का खतरा भारतीयों को ही है. शिक्षा में क्या हाल है. तो डंका कैसे बज रहा है. दुनिया में कहीं भी भीड़ आदमी को मार रही हो. इसका भी तो डंका बज रहा होगा.



अखिलेश यादव ने कहा कि दुनिया में सबसे ज्यादा झूठ भारतीय जनता पार्टी ने बोला है. उनकी राजनीतिक भाषा, व्यवहार जनता ने देख लिया है, अब जनता बताएगी उन्हें. अखिलेश ने कहा कि कोई राजनीतिक दल ये ट्रेनिंग नहीं देता होगा कि क्या भाषा होगी. जो भारतीय संस्कृति की दुहाई देते हैं, सोचिए उनकी भाषा क्या है. ये तो कहिए आज जमाना डिजिटल है. राजनीति में ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. बीजेपी की विधायक ने जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया है, वह राजनीति में कोई इस्तेमाल करता है क्या.
प्रयागराज कुंभ में पहली बार संगम तट पर होगी कैबिनेट बैठक, त्रिवेणी में स्नान करेंगे योगी के मंत्री!

अखिलेश ने कहा कि अभी तो चुनाव करीब आ रहा है. अभी कुछ लोगों की भाषा और निचले स्तर पर जाएगी. उन्होंने कहा कि वे महिलाएं इंतजार कर रही हैं, जिन्हें सिलेंडर और चूल्हा दिया गया था. चुनाव आए तो बताएं सिलेंडर कैसे भरा जाता है. अखिलेश ने कहा कि सिर्फ छोटी इकाई ही नहीं सबसे ऊंचे पद पर बैठने वालों की भी भाषा यही है. ये फ्रस्टेशन और डिप्रेशन मिला दो, यही है.

वाराणसी में प्रवासी सम्मेलन पर अखिलेश यादव ने कहा कि हमें उम्मीद है कि कुंभ में नहाने के बाद वह यूपी में इन्वेस्टमेंट करेंगे. हालांकि यूपी में इन्वेस्टमेंट तो हुआ नहीं. मैं एनआरआई का स्वागत करता हूं, काशी देखें, कुंभ देखें, मैं चाहता हूं कि लौटते समय एक्सप्रेस वे पर भी जाएं. ताकि पता करें काम कौन कर रहा है.



गठबंधन में दलों की संख्या के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि ये भी देखना चाहिए कि बीजेपी के साथ 40 से ज्यादा दल हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि जहां तक नेता की बात है तो लोग देख रहे हैं कि हमारे पास कितने च्वाइस हैं. देश नए प्रधानमंत्री की तैयारी कर रहा है. बीजेपी के पास कोई नया प्रधानमंत्री है तो बताएं.


उन्होंने कहा​ कि नोटबंदी का कोई असर नहीं हुआ. थाने, तहसीलों में विधायक, मंत्री क्या कर रहे हैं, उन्हें देखना चाहिए. अखिलेश यादव ने कहा​ कि मैं चाहूंगा कि साधु संतों को कम से कम 20 हजार रुपए मिलनी चाहिए. साथ ही समाजवादी पेंशन भी शुरू हो. यश भारती में भी 50 हजार रुपए की सम्मेलन हो.


गांव गांव रामायण होती है, हम तो चाहते हैं कि रामायण में राम, लक्ष्मण, सीता बनते हों तो उनकी भी पेंशन हो. रावण की भी पेंशन हो.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज व सीएम योगी ने की प्रवासी भारतीय दिवस की शुरुआत

अखिलेश यादव ने कहा कि कुंभ में दान का महत्व है. भारत सरकार कुंभ में अच्छा काम कर रही है. हमारी मांग है कि भारत सरकार यूपी सरकार को किला दान कर दे और सेना को यमुना किनारे बहुत सारी जमीन पड़ी है, वहां शिफ्ट कर दिया जाए.

मुलायम सिंह यादव के चुनाव लड़ने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि जहां से चाहेंगे, वह वहां से लड़ेंगे. इस दौरान डिंपल यादव के चुनाव लड़ने की संभावनाओं के सवाल को अखिलेश टाल गए.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading