Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022: गाजीपुर से विधायक सुभाष पासी को सपा ने पार्टी से निकाला, बोले- खुद दिया इस्तीफा

UP Election 2022: गाजीपुर से विधायक सुभाष पासी को सपा ने पार्टी से निकाला, बोले- खुद दिया इस्तीफा

UP: समाजवादी पार्टी की ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. (File photo)

UP: समाजवादी पार्टी की ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. (File photo)

UP Politics: बताते चलें कि गाजीपुर की सैदपुर विधानसभा सीट एक ऐसी सीट है जहां से 1996 के बाद से बीजेपी का कमल कभी नहीं खिला. पिछले चार चुनावों की बात करें तो दो-दो बार सपा-बसपा के प्रत्याशी की जीत हुई है. 1996 में बीजेपी के टिकट पर महेंद्र नाथ बीजेपी के टिकट पर जीते थे. इसके बाद 2002 और 2007 में बसपा के कैलाश नाथ सिंह और दीनानाथ पांडेय की जीत हुई थी. 2012 और 2017 के विधानसभा चुनावों में सपा के टिकट पर सुभाष पासी ने जीत दर्जकर विधानसभा पहुंचे. अब उनके बीजेपी में शामिल होने पर बीजेपी को उम्मीद है कि वे इस बार सैदपुर सीट अपनी झोली में डालने में कामयाब रहेगी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ/ गाजीपुर.आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के मद्देनजर नेताओं का दल-बदल कार्यक्रम जारी है. इसी कड़ी में गाजीपुर के सैदपुर विधानसभा सीट से से दो बार के सपा विधायक सुभाष पासी (SP MLA Subhash Pasi) को पार्टी ने निकाल दिया है. बताया जा रहा है कि पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने पर निष्कासन की कार्रवाई की गई है. समाजवादी पार्टी की ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर इसकी जानकारी दी गई. उधर, सपा विधायक सुभाष पासी ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव को पत्र लिखकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया.

समाजवादी पार्टी की ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर दी जानकारी

समाजवादी पार्टी की ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर दी जानकारी.

विधायक सुभाष पासी मंगलवार दोपहर एक बजे के करीब बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करेंगे. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही समाजवादी पार्टी ने सुभाष पासी की पत्नी को सपा महिला सभा का राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किया था. इससे पहले सुभाष पासी ने गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लखनऊ में मुलाकात की थी. सुभाष पासी दो बार सैदपुर सीट से विधायक हैं.

विधायक सुभाष पासी ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव को लिखा पत्र.

विधायक सुभाष पासी ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव को लिखा पत्र.

बताते चलें कि गाजीपुर की सैदपुर विधानसभा सीट एक ऐसी सीट है जहां से 1996 के बाद से बीजेपी का कमल कभी नहीं खिला. पिछले चार चुनावों की बात करें तो दो-दो बार सपा-बसपा के प्रत्याशी की जीत हुई है. 1996 में बीजेपी के टिकट पर महेंद्र नाथ बीजेपी के टिकट पर जीते थे. इसके बाद 2002 और 2007 में बसपा के कैलाश नाथ सिंह और दीनानाथ पांडेय की जीत हुई थी. 2012 और 2017 के विधानसभा चुनावों में सपा के टिकट पर सुभाष पासी ने जीत दर्जकर विधानसभा पहुंचे. अब उनके बीजेपी में शामिल होने पर बीजेपी को उम्मीद है कि वे इस बार सैदपुर सीट अपनी झोली में डालने में कामयाब रहेगी.

Tags: Akhilesh yadav, BJP, Ghazipur news, Lucknow news, Samajwadi party, UP Election 2022, UP politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर