होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /सपा का अधिवेशन: अखिलेश यादव की तीसरी बार होगी ताजपोशी, चुनावों को लेकर पार्टी भरेगी हुंकार

सपा का अधिवेशन: अखिलेश यादव की तीसरी बार होगी ताजपोशी, चुनावों को लेकर पार्टी भरेगी हुंकार

समाजवादी पार्टी का प्रांतीय और राष्ट्रीय अधिवेशन 28 सितंबर से

समाजवादी पार्टी का प्रांतीय और राष्ट्रीय अधिवेशन 28 सितंबर से

Samajwadi Party Executive Meet: समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी के मुताबिक प्रांतीय अधिवेशन में प्रदेश ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

28 और 29 सितंबर को होगा सपा का राष्ट्रीय और प्रांतीय अधिवेशन
25 हजार से ज्यादा पदाधिकारी और कार्यकर्ता होंगे शामिल
अखिलेश यादव की तीसरी बार अध्यक्ष पद पर होगी ताजपोशी

लखनऊ. समाजवादी पार्टी (सपा) अपना प्रांतीय और राष्ट्रीय अधिवेशन करने जा रही है. 28 सितंबर को प्रांतीय सम्मेलन में जहां प्रदेश अध्यक्ष पद पर मुहर लगेगी, वहीं 29 सितम्बर को राष्ट्रीय अधिवेशन में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर अखिलेश की तीसरी बार ताजपोशी लगभग तय है. लखनऊ के रमाबाई अम्बेडकर पार्क में होने वाले अधिवेशन में सपा आगामी चुनावों को लेकर भी हुंकार भरेगी.

समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी के मुताबिक प्रांतीय अधिवेशन में प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव होगा. वहीं राष्ट्रीय अधिवेशन में राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना जाएगा. 28 से 29 सितंबर तक चलने वाला अधिवेशन सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक होगा. इसमें देशभर से 25000 पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं के शामिल होने की संभावना है. पार्टी ने चुनाव अधिकारी प्रोफेसर रामगोपाल यादव को नामित किया है.

राजनीतिक-आर्थिक मसलों पर होगा मंथन
मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी के मुताबिक यूपी में नवंबर-दिसंबर में निकाय चुनाव होने हैं. वहीं 2024 में लोकसभा चुनाव भी होंगे. ऐसे में चुनावी रणनीति के बारे में पार्टी के वरिष्ठ नेता चर्चा करेंगे. साथ ही आर्थिक व राजनीतिक प्रस्ताव पेश कर उन पर मंथन किया जाएगा. अधिवेशन की शुरुआत में 10 बजे झंडारोहण समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव करेंगे. सम्मेलन का उद्घाटन भी राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा किया जाएगा. इसी दिन आर्थिक-राजनीतिक प्रस्ताव पेश होगा, जिस पर प्रतिनिधि सम्मेलन में चर्चा होगी. साथ ही वर्तमान की राजनीतिक स्थिति, केन्द्र-राज्य सरकार की नीतियों और देश की ज्वलंत समस्याओं पर भी विचार होगा.

आपके शहर से (लखनऊ)

जानें कब अखिलेश को मिली थी पार्टी की कमान
अखिलेश को लखनऊ में एक जनवरी 2017 को सपा संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव को पद से हटाकर पहली बार बनाया गया था अध्यक्ष. इसके बाद 5 अक्टूबर 2017 को आगरा के राष्ट्रीय अधिवेशन में सर्वसम्मति से अखिलेश को दोबारा राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया. पार्टी संविधान में संशोधन कर अखिलेश को पांच साल के लिए अध्यक्ष चुना गया था. पहले सपा में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का कार्यकाल तीन साल का होता था.

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, UP latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें