Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: अखिलेश यादव ने जारी की चौथी लिस्‍ट, जानें सपा से अब तक कितने मुस्लिमों को मिला टिकट

UP Chunav 2022: अखिलेश यादव ने जारी की चौथी लिस्‍ट, जानें सपा से अब तक कितने मुस्लिमों को मिला टिकट

अखिलेश यादव ने सपा की चौथी लिस्‍ट में 3 मुस्लिम प्रत्‍याशी मैदान में उतारे हैं.

अखिलेश यादव ने सपा की चौथी लिस्‍ट में 3 मुस्लिम प्रत्‍याशी मैदान में उतारे हैं.

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए सपा प्रमुख और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आठ नामों की चौथी लिस्‍ट में भी मुस्लिम कैंडिडेट पर दांव खेला है. इसमें कासगंज की पटियाली सीट से नादिरा सुल्‍तान, बदायूं से रईस अहमद और कानपुर कैंट से मोहम्‍मद हसन 'रूमी' को मैदान में उतारा है. इसके साथ समाजवादी पार्टी अब तक 45 मुस्लिम प्रत्‍याशी उतार चुकी है, जिसमें सहारनपुर की देवबंद सीट के माविया अली भी शामिल हैं. दरसअल, अली को पहले से घोषित पूर्व मंत्री स्वर्गीय राजेंद्र राणा के पुत्र कार्तिकेय राणा की जगह मैदान उतारा है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के लिए समाजवादी पार्टी ने आठ प्रत्‍याशियों की एक और लिस्‍ट जारी कर दी है. इस लिस्‍ट में सपा ने कासगंज की पटियाली सीट से नादिरा सुल्‍तान, बदायूं से रईस अहमद और कानपुर कैंट से मोहम्‍मद हसन ‘रूमी’ को मैदान में उतारा है. साफ है कि इस लिस्‍ट में भी मुस्लिम कैंडिडेट का दबदबा दिखा है. इससे पहले सपा प्रमुख और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने पार्टी की तीसरी लिस्‍ट के 56 प्रत्‍याशियों में से 10 मुस्लिम मैदान में उतारे थे, जिसमें गजाला लारी (Ghazala Lari), मुर्तजा सिद्दीकी, नईम गुर्जर, नफीस अहमद और आलमबंदी जैसे कई नेताओं के नाम शामिल थे.

यही नहीं, सपा ने अपनी 159 प्रत्‍याशियों की पहली लिस्‍ट में 30 सीटों पर मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था. हालांकि दूसरी लिस्‍ट में मुस्लिम प्रत्‍याशी कम नजर आए और 39 नामों में एक मुस्लिम प्रत्‍याशी था. इस लिस्‍ट में बहराइच से यासिर शाह पर दांव खेला था.

अब तक 45 मुस्लिम पर लगाया दांव
बहरहाल, समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने अब तक 45 मुस्लिम प्रत्‍याशियों पर दांव खेला है. इसमें सहारनपुर की देवबंद से सपा के नए प्रत्‍याशी माविया अली का नाम भी शामिल है. पार्टी ने इस सीट से पहले पूर्व मंत्री स्वर्गीय राजेंद्र राणा के पुत्र कार्तिकेय राणा को उतारा था, लेकिन उसके बाद फैसला बदल दिया. हालांकि दोनों ही लोग नामांकन कर चुके हैं. यही नहीं, अभी काफी संख्‍या में सीटों का ऐलान होना बाकी है. जबकि अखिलेश यादव ने अपने पिता और यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव की तरह मुस्लिम और यादव समीकरण पर फोकस किया है. हालांकि सपा की लिस्‍ट में ओबीसी के साथ दलित नेताओं को भी भारी संख्‍या में टिकट दिए गए हैं, लेकिन चर्चा मुस्लिम और यादव समीकरण की हो रही है.

तीसरी और चौथी लिस्‍ट में ये मुस्लिम चेहरे
1. दाउद अहमद, मोहम्‍मदी, लखीमपुर
2.नईम गुर्जर, तिलोई, अमेठी
3. मुर्तजा सिद्दीकी, फूलपुर, इलाहाबाद
4.फरीद महफूज किदवई, रामनंगर, बाराबंकी
5.सईदा खातून, डुमरियागंज, सिद्धार्थनगर
6.गजाला लारी, रामपुरकारखाना, देवरिया
7. नफीस अहमद, गोपालपुर, आजमगढ़
8.आलमबंदी, निजामाबाद, आजमगढ़
9. जियाउद्दीन रिजवी, सिकंदरपुर, बलिया
10.जाहिद बेग, भदोही, भदोही
11.नादिरा सुल्‍तान, पटियाली, कासगंज
12. रईस अहमद, बदायूं सदर, बदायूं
13. मोहम्‍मद हसन ‘रूमी’, कानपुर कैंट, कानपुर

उत्तर प्रदेश में कब-कब है वोटिंग
यूपी में इस बार सात चरणों में मतदान होना है. इसकी शुरुआत 10 फरवरी को पश्चिमी यूपी के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी. इसके बाद दूसरे चरण में राज्य की 55 सीटों पर मतदान होगा. वहीं, तीसरे चरण में 59, चौथे चरण में 60, पांचवें चरण में 60 सीटों, छठे चरण में 57 और सातवें चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा. 10 फरवरी को पहले चरण के मतदान के बाद 14 फरवरी को दूसरे चरण, 20 फरवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे चरण, 27 फरवरी को पांचवें चरण, 3 मार्च को छठे चरण और 7 मार्च को सातवें चरण के लिए मतदान होगा. वहीं, यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे.

पिछले विधानसभा चुनाव के ऐसे थे नतीजे
यूपी विधानसभा चुनाव 2017 में भाजपा ने 403 में से 325 सीटों पर जीत दर्ज की थी. सपा और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. सपा ने 47 और कांग्रेस ने 7 सीटें ही जीती थीं. मायावती की बसपा 19 सीटें जीतने में कामयाब रही थी. वहीं, 4 सीटों पर अन्य का कब्जा हुआ था.

Tags: Akhilesh yadav, Azam Khan, Samajwadi party, Uttar Pradesh Assembly Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर