लखनऊ में राजनाथ सिंह को चुनौती देंगी बीजेपी के 'शत्रु' की पत्नी पूनम सिन्हा, सपा ने दिया टिकट

समाजवादी पार्टी लखनऊ सीट से किसी ऐसे चेहरे को मैदान में उतारने की तैयारी में थी, जो राजनाथ सिंह को टक्कर दे सके.

Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: April 16, 2019, 4:43 PM IST
लखनऊ में राजनाथ सिंह को चुनौती देंगी बीजेपी के 'शत्रु' की पत्नी पूनम सिन्हा, सपा ने दिया टिकट
पूनम सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा की फाइल फोटो
Amit Tiwari
Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: April 16, 2019, 4:43 PM IST
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की हाई-प्रोफाइल सीट से बीजेपी प्रत्याशी राजनाथ सिंह को गठबंधन की तरफ से सपा प्रत्याशी पूनम सिन्हा टक्कर देंगी. पूनम बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी हैं. पूनम सिन्हा मंगलवार (16 अप्रैल) को लखनऊ पहुंची और सपा की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की. पूनम सिन्हा के नाम का नामांकन पत्र ले लिया गया है और वे 18 अप्रैल की सुबह नामांकन करेंगी

दरअसल, समाजवादी पार्टी लखनऊ सीट से किसी ऐसे चेहरे को मैदान में उतारने की तैयारी में थी, जो राजनाथ सिंह को टक्कर देता दिखे. पिछले दिनों शत्रुघ्न सिन्हा की सपा मुखिया अखिलेश यादव से मुलाक़ात भी हुई थी. इस मुलाकात के दौरान पूनम सिन्हा को लखनऊ से टिकट देने की बात तय हुई थी, लेकिन उनके नाम की घोषणा से पहले समाजवादी पार्टी चाहती थी कि पहले शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में शामिल हो जाएं, ताकि लखनऊ सीट से विपक्ष का एक साझा उम्मीदवार मैदान में हो.

कांग्रेस की तरफ से भी राजनाथ सिंह के खिलाफ कोई लड़ने को तैयार नहीं दिख रहा है. कांग्रेस एक ब्राह्मण चेहरे को यहां से प्रत्याशी बनाना चाहती थी. इसके लिए जितिन प्रसाद को ऑफर भी दिया गया, लेकिन कहा जाता है कि जितिन इसके लिए तैयार नहीं हुए. इसके बाद कांग्रेस ने प्रमोद कृष्णम और हिन्‍दू महासभा के स्वामी चक्रपाणि महाराज को यहां से लड़ने का ऑफर दिया. उन्होंने भी मना कर दिया.

अब कहा जा रहा है कि शत्रुघ्न सिन्हा ने कांग्रेस हाईकमान को इस बात के लिए सहमत कर लिया है कि पार्टी लखनऊ से कोई प्रत्याशी मैदान में खड़ा नहीं करेगी, जिससे वोटों के बंटवारे को रोका जा सके. पूनम सिन्हा को मैदान में उतारने के पीछे की एक वजह यह भी बताई जा रही है कि लखनऊ में करीब ढाई लाख के आस-पास कायस्थ मतदाता है. साथ ही उनके नाम के साथ शत्रुघ्न सिन्हा का स्टारडम भी है. इतना ही नहीं पूनम सिन्हा खुद सिन्धी परिवार से आती हैं, जिसका एक अच्छा वोट बैंक लखनऊ में है.

उधर, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को एक रोड शो के बाद नामांकन किया. लखनऊ में पांचवें चरण के दौरान 6 मई को मतदान होना है. नामांकन की आखिरी तारीख 18 अप्रैल है.

लखनऊ सीट पिछले दो दशक से बीजेपी का एक मजबूत गढ़ रही है. इस सीट पर कब्जे के लिए कांग्रेस समेत समाजवादी पार्टी और बसपा हमेशा से ही जोर आजमाइश करती रही हैं. लेकिन अटल बिहारी वाजपेयी की इस सीट को कब्जाने में कामयाब नहीं रहे. 2007 में अटल के राजनीति से संन्यास लेने के बाद इस सीट से 2009 में लालजी टंडन सांसद बने. उसके बाद 2014 में राजनाथ सिंह यहां से भारी मतों से जीते.

ये भी पढ़ें:
Loading...

76 की उम्र में 17वीं बार फिर मैदान में मथुरा के फक्कड़ बाबा, 16 बार हो चुकी है जमानत जब्त

आजम के बयान पर आगे आएं अखिलेश यादव और मायावती: केशव प्रसाद मौर्य

नेताओं की बदजुबानी जारी, BSP प्रत्याशी गुड्डू पंडित ने राज बब्बर को जूतों से मारने की खाई कसम

जया प्रदा का आजम खान पर हमला, बोलीं -भाई को भाई कहना गुनाह है तो मैं गुनहगार हूं

क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार