अपना शहर चुनें

States

अखिलेश यादव का बड़ा ऐलान, बोले- लव जिहाद कानून का विधानसभा में विरोध करेगी सपा

अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.
अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.

यूपी पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने यूपी सरकार के लव जिहाद कानून (Love Jihad Law) का विधानसभा में विरोध करने का ऐलान किया है. इसके साथ उन्‍होंने किसान आंदोलन (Farmer Protest) और कोरोना के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा है.

  • Share this:
लखनऊ. समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष और पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने शनिवार को कहा कि धर्मांतरण कानून विधेयक विधानसभा में आयेगा तो सपा (Samajwadi Party) पूरी तरह विरोध करेगी. उल्लेखनीय है कि राज्‍यपाल की मंजूरी के बाद कथित ‘लव जिहाद’ रोकने के लिए 'उत्तर प्रदेश विधि विरूद्ध धर्म संपविर्तन प्रतिषेध अध्‍यादेश, 2020' की अधिसूचना शनिवार को ही जारी की गई है.

दूसरे दलों के लोगों का स्‍वागत, लव जिहाद कानून का विरोध
अखिलेश यादव ने शनिवार को सपा मुख्‍यालय में पूर्व सांसद चौधरी बिजेंद्र सिंह, पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री लियाकत अली, पूर्व विधायक जमीरउल्‍ला, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) समेत कई दलों को छोड़कर पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं का स्‍वागत करने के बाद पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान कथित ‘लव जिहाद’ पर सरकार द्वारा बनाये जा रहे कानून के सवाल पर यादव ने कहा कि सपा ऐसे किसी कानून के पक्ष में नहीं है. उन्‍होंने कहा कि हमारी पार्टी इसका पूरी तरह विरोध करेगी.सरकार एक तरफ अंतरजातीय और अन्‍तर्धामिक विवाह को प्रोत्‍साहन दे रही और दूसरी तरफ इस तरह का कानून बना रही है, तो यह दोहरा बर्ताव क्‍यों है? इसके अलावा उन्‍होंने किसान और कोरोना के मुद्दे पर भी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.

भाजपा पर लगाया ये आरोप
अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर सपा के कार्यों की नकल का आरोप लगाते हुए कहा, ‘जनता समाजवादियों के सिद्धांतों को समझकर हमें पुन: मौका देगी और 2022 के बाद माहौल बेहतर हो जायेगा.’ इसके अलावा उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री पर तंज कसते हुए सवाल उठाया 'भाजपा की सरकार और भाजपा के लोगों से अच्‍छा और बड़ा झूठ कोई नहीं बोल सकता है. भाजपा की सरकार ने ऐसा फैसला लिया है कि 2022 तक उत्तर प्रदेश में सोलर पैनल से दस हजार मेगावाट बिजली का उत्‍पादन हो जाएगा, क्‍या यह संभव है. क्‍या मुख्‍यमंत्रेी सोलर पैनल के बारे में कुछ जानते हैं. जबकि कोरोना को लेकर भी सरकार लगातार झूठ बोल रही है और इसे बदलने की जरूरत है.



सरकार कोरोना वायरस से संक्रमण के आंकड़ों को लेकर लगातार झूठ बोल रही है, सरकार बदलो : अखिलेश यादव


किसान आंदोलन का किया समर्थन
किसानों के आंदोलन का समर्थन करते हुए पूर्व मुख्‍यमंत्री ने कहा कि किसानों पर इस तरह की लाठी और इस तरह का आतंकी हमला किसी सरकार ने नहीं किया होगा जितना भाजपा की सरकार में हो रहा है. ये वही लोग हैं जिन्‍होंने किसानों से कहा कि सत्ता में आने पर सिर्फ कर्ज माफ नहीं करेंगे बल्कि आपकी पैदावार की कीमत देंगे और आय दोगुनी कर देंगे, लेकिन जबसे भाजपा की सरकार आई तबसे सबसे ज्‍यादा गरीब और किसान बर्बाद हुआ है. वहीं, अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार में धान की कथित लूट और क्रय केंद्रों की बदहाली का जिक्र किया और सीतापुर जिले के किसानों की समस्‍याओं पर ऑनलाइन एक संवाद भी कराया. इस दौरान महमूदाबाद क्षेत्र में किसानों की समस्‍याओं का ब्‍योरा सपा विधायक नरेंद्र सिंह वर्मा ने प्रस्‍तुत किया.

सपा अध्‍यक्ष ने कहा कि मिस्‍ड काल की व्‍यवस्‍था से भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है, लेकिन ह‍म जानना चाहते हैं कि वह नंबर बता दो जहां किसान धान पहुंचा दे और उसे उसकी कीमत मिल जाए. वह कानून बना दो जिससे किसानों को दोगुनी कीमत और नौजवानों को नौकरी नहीं तो रोज़गार ही मिल जाए.


राज्‍य सरकार के एक मंत्री द्वारा साइकिल चलाने की चर्चा पर यादव ने कहा कि साइकिल गरीब की है और समाजवादी पार्टी की है, मंत्री साइकिल नहीं चला रहे हैं बल्कि आने वाले समय को बता रहे हैं कि वह किसका है.उन्‍होंने कहा कि भारत की अर्थव्‍यवस्‍था तब तक बेहतर नहीं हो सकती जब तक किसानों का भुगतान न करा दें और उनकी आय न बढ़ा दें. पूर्व मुख्‍यमंत्री ने सरकार पर झूठे मुकदमे लगाने का आरोप लगाया और कहा कि इस सरकार में लोगों के साथ अन्‍याय हो रहा है.

यह वह सरकार है कि जिसके एक अधिकारी दूसरे अधिकारी पर भ्रष्‍टाचार का आरोप लगा रहे हैं, यह सरकार किसी को फंसा सकती और जेल भेज सकती है. अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि आने वाला समय बताएगा कि सरकार ने कितना भ्रष्‍टाचार किया और कितनी लूट की है.


इसके अलावा अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी नेता आजम खान के साथ इतना अन्‍याय हो रहा है जिसकी कल्‍पना नहीं कर सकते हैं. उनका दोष इतना है कि उन्होंने अच्‍छा विश्‍वविद्यालय बना दिया. बलरामपुर जिले में एक पत्रकार को कथित तौर पर जिंदा जलाये जाने की घटना की भी उन्‍होंने निंदा की. उन्‍होंने पत्रकार के मामले में दोषियों पर कार्रवाई और परिवार की मदद की भी मांग की. यादव ने कहा कि आप भी सुरक्षित रहिए और हम भी सुरक्षित रहें पता नहीं कब किसकी जान चली जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज