लखनऊ: ऑक्सीजन प्लांट पर SDM और स्टाफ के बीच हाथापाई, मालिक ने जड़ा ताला, हड़कंप

UP: लखनऊ के एक ऑक्सीजन प्लांट पर एसडीएम और प्लांट स्टाफ के बीच विवाद के बाद हड़कंप मच गया. (सांकेतिक तस्वीर)

UP: लखनऊ के एक ऑक्सीजन प्लांट पर एसडीएम और प्लांट स्टाफ के बीच विवाद के बाद हड़कंप मच गया. (सांकेतिक तस्वीर)

Lucknow News: लखनऊ के चिनहट इलाके में स्थित केटी ऑक्सीजन प्लांट पर एसडीएम और प्लांट स्टॉफ के बीच हाथापाई हो गई. बवाल बढ़ा तो प्लांट पर ताला डालकर मालिक और स्टाफ भाग निकले. कई घंटे अफरातफरी का माहौल रहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2021, 6:34 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) लगातार लोगों को डरा रहा है. शहर में ऑक्सीजन की कमी (Oxygen Crisis) से लगातार मरीज जूझ रहे हैं. ऑक्सीजन हासिल करने के लिए घंटों लाइनें लगी हुई हैं. इस बीच शहर के चिनहट थाना क्षेत्र के देवा रोड पर केटी ऑक्सीजन प्लांट (KT Oxygen Plant) पर शुक्रवार को हंगामा खड़ा हो गया. यहां केटी ऑक्सीजन प्लांट पर एसडीएम और प्लांट स्टॉफ के बीच हाथापाई हो गई. बवाल बढ़ा तो प्लांट पर ताला डालकर मालिक और स्टाफ भाग निकले. कई घंटे अफरातफरी का माहौल रहा. आखिरकार जिला प्रशासन की सिफारिश के बाद मालिक ने ताला खोला.

करीब पांच घंटे तक प्लांट पर ताला लगा रहा. इस दौरान सैकड़ों लोग ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए लाइन में लगे रहे. ऑक्सीजन के लिए लाइन में लगे लोगो में गहरा आक्रोश देखने को मिला. बता दें यहां सुबह 6 बजे से लंबी कतार में लोग लगे हैं. ऑक्सीजन के लिए तरस रहे कई मरीज गंभीर हालत में हैं. उधर बवाल शांत होने के बाद केटी आक्सीजन प्लांट पर पुलिस तैनात कर दी गई है.

लोगों का दर्द नहीं देख रहे एसडीएम और प्लांट मालिक

यहां लाइन में लगे कुछ लोगों ने बताया कि उनका पूरा परिवार कोरोना संक्रमित है. ऑक्सीजन की सख्त जरूरत है लेकिन यहां बवाल हो रहा है. आक्रोषित लोगों का कहना था कि एसडीएम और फैक्ट्री मालिक के बीच आपसी मामले को लेकर हाथापाई हुई थी. लोगों में रोष है कि एसडीएम और प्लांट के मालिक घंटों खड़े लोगों का दर्द नहीं देख रहे. बवाल के बाद मालिक ने प्लांट पर ताला लगा दिया और प्लांट में ऑक्सीजन खत्म होने का नोटिस लगा दिया.
बता दें ऑक्सीजन के लिए लखनऊ के कई प्राइवेट हॉस्पिटलों का भी बुरा हाल है. प्लांट पर ऑक्सीजन लेने के लिए हॉस्पिटलों के वाहन भी कतार में खड़े हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज