रंग से नहीं डरता हूं, UP है ये, बाहर निकला किसी ने लेखपाल, दरोगा बना दिया तो?...अखिलेश ने शेयर किया वीडियो

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की वाइसचांसलर पर तंज कसा है.(File Photo)

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की वाइसचांसलर पर तंज कसा है.(File Photo)

Lucknow News: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. इसमें कॉमेडियन राजीव निगम यूपी में नौकरियों को लेकर तंज करते दिख रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 12:55 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) आमतौर पर अपने तंज भरे अंदाज के लिए जाने जाते हैं. उनके ट्वीट में इसी की झलक मिलती है. वे लगातार योगी सरकार (Yogi Government) पर हमले करते हैं लेकिन अंदाज तंज भरा ही होता है. अब ऐसा ही एक और ट्वीट (Tweet) अखिलेश यादव ने किया है. इसमें अखिलेश ने कुछ लिखा नहीं है, बस कॉमेडियन राजीव निगम के वायरल वीडियो को शेयर कर दिया है. ये वीडियो होली को लेकर बनाया गया लगता है. इसमें यूपी में सरकारी नौकरियों को लेकर तंज है.

वीडियो में राजीव निगम खिड़की से झांकते दिख रहे हैं. उनसे एक शख्स कहता है कि अरे भाईसाहब बाहर निकल जाओ, कोई रंग नहीं लगाएगा. जवाब में राजीव निगम अपने अंदाज में कहते हैं, “भाई साहब रंग से नहीं डरता हूं. उत्तर प्रदेश है ये. पता चला घर के बाहर निकले. किसी ने उठाकर सरकारी नौकरी में धर लिया. लेखपाल बना दिया, दरोगा बना दिया तो?” ये कहते हुए राजीव निगम झिड़कने के अंदाज में खिड़की बंद कर देते हैं.

अखिलेश यादव का ट्वीट


क्या है पूरा मामला

दरअसल पिछले दिनों सीएम योगी आदित्यनाथ ऑफिस के ट्विटर हैंडल से एक ट़्वीट किया गया था, जिसमें सरकारी नौकरी के लिए आयोजित परीक्षाओं के समयबद्ध परिणामों और पारदर्शी चयन प्रक्रिया  के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए दुर्गेश चौधरी नाम के शख्स का वीडियो जारी किया गया था. दुर्गेश की नियुक्ति राजस्व लेखपाल के पद पर पूर्ण पारदर्शिता के साथ बताई गई थी. वीडियो में खुद को दुर्गेश चौधरी बताने वाले शख्स ने सीएम को धन्यवाद देते हुए बताया कि कैसे उसे लेखपाल की नौकरी मिली. बाद में बात सामने आई कि लेखपाल की भर्ती ही नहीं हुई तो नौकरी कैसे मिल गई? इस पर बवाल शुरू हुआ तो ये ट्वीट डिलीट कर दिया गया था. इस मामले में तमाम विपक्षी दलों ने योगी सरकार को निशाने पर लिया था.

आप सांसद ने भी किया था हमला



AAP MP Sanjay Singh
आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संज सिंह का ट्वीट


इस पर आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा, “भाजपा में ऊपर से लेकर नीचे तक झूठ बोलने वालों का जमावड़ा है. अब आदित्यनाथ जी को ही देख लीजिये एक नौजवान का फ़र्ज़ी वीडियो डाल दिया. नौकरी देने का धन्यवाद भी ले लिया. चारों तरफ थू-थू हुई तो वीडियो डिलीट करना पड़ा. क्या बीजेपी को अब अपना नाम बदलकर “भारतीय झूठ्ठा पार्टी” रख लेना चाहिये?”
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज