अपना शहर चुनें

States

VIDEO: जानिए क्यों PM मोदी ने हेल्थ सेक्टर बजट पर वेबिनार के दौरान की UP के CM योगी की प्रशंसा?

हेल्थ सेक्टर बजट पर वेबिनार में संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का जिक्रय किया.
हेल्थ सेक्टर बजट पर वेबिनार में संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का जिक्रय किया.

Lucknow News: हेल्थ सेक्टर पर वेबिनार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जिक्र करते हुए उनके गोरखपुर व समूचे पूर्वांचल में किए गए कार्यों की सराहना की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 23, 2021, 5:27 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. स्वास्थ्य क्षेत्र में केंद्र के बजट (Health Sector Budget) प्रावधानों के प्रभावी क्रियान्वयन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को आयोजित एक वेबिनार को संबोधित किया. इस दौरान प्रधानमंत्री ने कोरोना काल में सरकार और हेल्थ सेक्टर के कार्यों को लेकर बधाई दी. साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) की प्रशंसा भी की पीएम मोदी ने यूपी सरकार द्वारा गोरखपुर सहित पूर्वांचल के कई जिलों में फैले दिमागी बुखार से निपटने के लिए किए गए काम की सराहना की.

वेबिनार में पीएम मोदी ने कहा कि पिछला साल भारत के साथ ही दुनिया के लिए यह एक टेस्‍ट था. हम कोविड-19 (COVID-19) के खिलाफ जंग में सफल हुए हैं. इसका श्रेय प्राइवेट सेक्‍टर को भी जाता है. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि आपको याद होगा कि हमारे यहां खासकर उत्तर प्रदेश में गोरखपुर व पूर्वांचल के इलाके में हर साल दिमागी बुखार से हजारों बच्चों की दुखद मृत्यु हो जाती थी. एक बार तो इस पर संसद में चर्चा करते हुए हमारे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी जी रो पड़े थे. उन बच्चों के मरने की स्थिति देखकर.

पीएम मोदी का संबोधन




पूर्वाचल में दिख रहा असर

पीएम मोदी ने कहा कि लेकिन जबसे वो वहां मुख्यमंत्री बने, उन्होंने वहां एक प्रकार से फोकस एक्टिविटी की. पूरी तरह जोर लगाया और आज हमें बहुत आशास्पद परिणाम मिल रहे हैं. हमने दिमागी बुखार को फैलने से रोकने पर जोर दिया, इलाज की सुविधाएं बढ़ाईं. इसका अब असर भी दिख रहा है.

भारत पर विश्‍व की निर्भरता और बढ़ेगी

प्रधानमंत्री ने कहा, 'आने वाले दिनों में भारत पर विश्‍व की निर्भरता और बढ़ेगी. भारत की मेडिकल शिक्षा, भारतीय डॉक्‍टर और नर्सेज की मांग जल्‍द बढ़ेगी. हमें इसे दिमाग में रखने की जरूरत है.' उन्‍होंने कहा कि उनकी सरकार देश में स्वास्थ्य सेवा के प्रति समग्र दृष्टिकोण अपना रही है, जिसके तहत केवल उपचार ही नहीं, बल्कि स्वास्थ्य को बेहतर बनाने पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए आवंटित किया गया बजट अब असाधारण है और यह इस क्षेत्र के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है. स्वास्थ्य सेवा को किफायती बनाने और इसकी सुलभता को अगले स्तर पर ले जाने की आवश्यकता है, जिसके लिए आधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल बढ़ाया जा रहा है.

सरकार 4 मोर्चों पर कर रही एक साथ काम

उन्होंने कहा, "भारत को स्वस्थ बनाए रखने के लिए सरकार चार मोर्चों पर एकसाथ काम कर रही है-बीमारी की रोकथाम एवं स्वास्थ्य को बेहतर बनाना, सभी के लिए स्वास्थ्य सेवा तक पहुंच सुनिश्चित करना, स्वास्थ्य सेवा संबंधी बुनियादी ढांचे की गुणवत्ता एवं मात्रा में बढ़ोतरी और समस्याओं से पार पाने के लिए मिशन मोड में काम करना.' पीएम मोदी ने कहा कि देश को भारत निर्मित टीकों की बढ़ती मांग के लिए तैयार रहना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज