Home /News /uttar-pradesh /

UP Vidhan Sabha Chunav 2022: यूपी में 7 मार्च को होगा सातवें चरण का चुनाव, जानें कब आएंगे नतीजे

UP Vidhan Sabha Chunav 2022: यूपी में 7 मार्च को होगा सातवें चरण का चुनाव, जानें कब आएंगे नतीजे

UP Election 2022: चुनाव प्रचार के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए ही रैली की जा सकेंगी.

UP Election 2022: चुनाव प्रचार के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए ही रैली की जा सकेंगी.

UP Election 2022 Voting For 7th Face: इससे पहले 2017 में 4 जनवरी को चुनाव की घोषणा हुई थी. 11 फरवरी से 8 मार्च तक सात चरणों में वोटिंग हुई थी. 11 मार्च को नतीजे आये थे. 19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने सीएम पद की शपथ ली थी. 15 मई को विधानसभा की पहली बैठक हुई थी. इस तरह इस साल 14 मई को विधानसभा का कार्यकाल पूरा हो जायेगा. बता दें कि यूपी में 403 विधानसभा सीटें हैं. 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी और उनके सहयोगियों के खाते में 325 सीटें गई थीं. सपा के कहते में 47, बसपा 19 और कांग्रेस 7 सीटों पर रही थी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh Vidhan Sabha Chunav) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Chunav) की तारीखों का ऐलान हो चुका है. यूपी चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्र ने बताया कि यूपी में 7 चरण में वोटिंग होगी. उन्होंने कहा कि 7 मार्च को सातवें चरण का चुनाव होगा. जबकि 10 मार्च को मतगणना होगी. सातवां चरण में 9 जिलों के 54 सीटों पर मतदान होगा. जिसमें जौनपुर, आजमगढ़, मऊ, वाराणसी, गाजीपुर, संत रविदासनगर, मिर्जापुर, चंदौली और सोनभद्र जिलों में वोट डाले जाएंगे.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि चुनाव तारीखों के ऐलान के साथ ही आचार संहिता लागू हो गई है. उन्होंने कहा कि कोरोना की वजह से चुनाव के लिए नया प्रोटोकॉल बनाया गया है. कोविड की वजह से वोटिंग समय में एक घंटे का इजाफा किया गया है.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि सभी दलों के उम्मीदवार, वोटर की पहला कर्तव्य होना चाहिए कि वो जनता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें. हो सके तो उम्मीदवार डिजिटल तरीके से चुनाव प्रचार करें ताकि कोविड नियमों का भी पालन हो चुके हैं. कोई भी रोड शो, बाइक रैली, पदयात्रा या किसी भी तरह के जुलूस 15 जनवरी तक नहीं होंगे. इसके लिए आगे भी प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं. इसके बाद भी हालात की निगरानी की जाएगी. किसी भी तरह के रोड शो, नुक्कड़ सभा की अनुमति नहीं होगी और ना ही कोई विजय रैली या जुलूस निकाला जाएगा.

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने चुनाव के दौरान कोरोना नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि हमें महामारी से निकलने का यकीन रखना होगा. उन्होंने नियमों के बारे में बताते हुए एक शेर से शुरुआत की. सुशील चंद्रा ने कहा, ‘यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट लेकर भी चिराग जलता है.’ चुनाव में तैनात सभी कर्मियों को वैक्सीन की दोनों डोज लगी होनी चाहिए. यूपी में 90 फीसदी वयस्कों को कम से एक टीका लग चुका है.

2017 में 4 जनवरी को हुई थी घोषणा
इससे पहले 2017 में 4 जनवरी को चुनाव की घोषणा हुई थी. 11 फरवरी से 8 मार्च तक सात चरणों में वोटिंग हुई थी. 11 मार्च को नतीजे आये थे. 19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने सीएम पद की शपथ ली थी. 15 मई को विधानसभा की पहली बैठक हुई थी. इस तरह इस साल 14 मई को विधानसभा का कार्यकाल पूरा हो जायेगा. बता दें कि यूपी में 403 विधानसभा सीटें हैं. 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी और उनके सहयोगियों के खाते में 325 सीटें गई थीं. सपा के कहते में 47, बसपा 19 और कांग्रेस 7 सीटों पर रही थी.

Tags: Akhilesh yadav, BJP, CM Yogi, Election commission, Election Commission of India, Samajwadi party, UP chunav, UP Chunav 2022, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर