लाइव टीवी

वसीम रिजवी ने पत्र लिख की मांग- COVID-19 से मरने वाले मुस्लिमों का किया जाए दाह-संस्कार
Lucknow News in Hindi

Mohd Shabab | News18 Uttar Pradesh
Updated: April 6, 2020, 5:57 PM IST
वसीम रिजवी ने पत्र लिख की मांग- COVID-19 से मरने वाले मुस्लिमों का किया जाए दाह-संस्कार
शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी

वसीम रिज़वी ने कहा कि मरने वाले मुसलमानों की डेड बॉडी को भी जलवाकर उनकी राख परिवार के सुपुर्द की जाए.

  • Share this:
लखनऊ. अपने बयानों से हमेशा चर्चा में रहने वाले यूपी शिया सेंट्रल वक्फ़ बोर्ड (Shia Central Waqf Board) के चेयरमैन वसीम रिज़वी (Waseem Rizvi) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) से होने वाली मौतों को लेकर एक और बड़ा बयान दिया है. वसीम रिज़वी ने केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिख कर मांग की है कि देश के बड़े डॉक्टरों से सलाह लेकर कोरोना वायरस से मरने वाले व्यक्तियों का अंतिम संस्कार जलाकर किया जाए.

धर्मिक रीति-रिवाज से ऊपर उठकर सोचने का वक़्त

वसीम रिज़वी ने कहा कि मरने वाले मुसलमानों की डेड बॉडी को भी जलवाकर उसकी राख परिवार के सुपुर्द की जाए. जिसे वह अपने क़ब्रिस्तानों में दफन करें. रिज़वी ने कहा कि अगर कोरोना से मरने वाले किसी भी व्यक्ति को मुस्लिम रीति रिवाज के तहत दफन किया जाता है तो उस डेड बॉडी को नहलाने वाले और दफन करने वालों के साथ जिस भूमि पर दफन किया जाएगा, वह भी प्रदूषित हो सकती है. रिज़वी ने कहा कि कोरोना से लड़ाई हमारा मक़सद है और धर्मिक रीति-रिवाज़ से ऊपर उठकर इस वक़्त सोचने की ज़रूरत है.



ख़ुद की मौत पर भी जलाने की अपील



शिया वक्फ़ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिज़वी इससे पहले भी कह चुके हैं कि अगर उनकी मौत कोरोना से हो जाती है तो उनके शव को दफनाने के बजाय जलाया जाए. उनका कहना है कि शव को जलाने से कोरोना वायरस पूरी तरह खत्म हो जाता है.

ये भी पढ़ें:

लखनऊ में मिला यूपी का सबसे कम उम्र का COVID-19 मरीज, 2 साल का मासूम संक्रमित

वाराणसी: कोरोना संक्रमित व्यापारी का शव पहुंचते ही भागा डोम परिवार
First published: April 6, 2020, 4:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading