लाइव टीवी

बसपा सुप्रीमो मायावती की मूर्ति तोड़ने वाले अमित जानी को शिवपाल ने बनाया युवजन सभा का राष्ट्रीय अध्यक्ष

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 20, 2019, 2:01 PM IST
बसपा सुप्रीमो मायावती की मूर्ति तोड़ने वाले अमित जानी को शिवपाल ने बनाया युवजन सभा का राष्ट्रीय अध्यक्ष
अमित जानी को नियुक्ति पत्र सौंपते शिवपाल यादव

शिवपाल यादव (Shivpal Yadav)के करीबी अमित जानी (Amit Jani) अब प्रसपा (PSP) के साथ प्रदेश के युवाओं को जोड़ने में अहम भूमिका निभाएंगे.

  • Share this:
लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) की मूर्ति तोड़कर चर्चा में आए अमित जानी (Amit Jani) को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (Pragtisheel Samajwadi Party) युवजन सभा (Yuvjan Sabha) का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है. शिवपाल यादव के करीबी अमित जानी अब प्रसपा के साथ प्रदेश के युवाओं को जोड़ने में अहम भूमिका निभाएंगे. अमित जानी हमेशा अपने विवादित बयानों, पोस्टरों और हरकतों को लेकर सुर्ख़ियों में रहे हैं. इतना ही नहीं अमित जानी पर कई आपराधिक मामले भी दर्ज हैं.

कहा जा रहा है कि शिवपाल के बेटे आदित्य यादव की इच्छा के बाद पार्टी ने अमित जानी को प्रसपा युवजन सभा का राष्ट्रीय अध्यक्ष नियुक्त किया है.

कभी समाजवादी पार्टी का कार्यकर्ता रहे अमित जानी ने शिवपाल के पार्टी छोड़ने के बाद प्रसपा ज्वाइन किया था. इतना ही नहीं लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने अखिलेश यादव के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान भी किया था. हालांकि उन्होंने ऐन वक्त पर नामांकन ही नहीं किया. इतना ही नहीं 2009 में महाराष्ट्र में उत्तर भारतियों पर हो रहे हमले के विरोध में उन्होंने नव निर्माण सेना का गठन भी किया था.

सुर्खियों में रहने का है शौक

मेरठ के जानी क्षेत्र के रहने वाले अमित जानी कभी सपा के समर्थक और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबी माने जाते थे. हालांकि लोकसभा चुनाव में उन्होंने खुद को सपा कार्यकर्ताओं से जान का खतरा बताया था. इतना ही नहीं लोकसभा चुनाव से पहले अमित जानी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ्द एक विवादित पोस्टर भी लगाया था. जिसके बाद उनकी गिरफ़्तारी हुई थी. हालांकि हाईकोर्ट के आदेश के बाद गिरफ़्तारी पर रोक लग गई थी. ताजमहल को लेकर फेसबुक पर की गई टिप्पणी पर उनकी गिरफ़्तारी भी हो चुकी है. अमित जानी आजम खान से खुद की जान को खतरा बताते हुए सुरक्षा की गुहार भी लगा चुके हैं.

(इनपुट: अलाउद्दीन अयूब)

ये भी पढ़ें:आगरा नगर निगम के इस अफसर के खिलाफ दो राज्य मंत्रियों ने खोला मोर्चा

बलिया में पराली जलाने पर 7 किसानों पर 28 हजार रुपये का जुर्माना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 1:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर