अजीत सिंह हत्याकांड के बाद गोमती नगर में रुके थे शूटर, विभूति खंड के रोहतास प्लूमेरिया अपार्टमेंट से मिली SUV

अजीत सिंह हत्याकांड: गोमतीनगर के अपार्टमेंट से डस्टर एसयूवी बरामद

अजीत सिंह हत्याकांड: गोमतीनगर के अपार्टमेंट से डस्टर एसयूवी बरामद

लखनऊ (Lucknow): एसयूवी में एक-दो जगह खून के निशान भी मिले है. बता दें घटना के बाद बरामद बाइक पर भी खून के निशान मिले थे. चर्चा है कि हत्या की रात हत्यारे इसी अपार्टमेंट में रुके थे. मामले में आज़मगढ़ के युवक प्रिंस से पुलिस पूछताछ कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 9:43 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में मऊ के पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह हत्याकांड (Ajeet SIngh Murder Case) मामले में संदिग्ध लाल डस्टर एसयूवी को पुलिस ने बरामद कर लिया है. गोमतीनगर के विभूतिखंड के रोहतास प्लूमेरिया अपार्टमेंट से ये गाड़ी बरामद हुई है. पुलिस अब कार से सबूत जुटाने में लगी है. डस्टर बरामद होने के बाद माना जा रहा है कि हत्याकांड के बाद शूटर इसी अपार्टमेंट में रुके थे.

आजमगढ़ के युवक से पूछताछ

एसयूवी में एक-दो जगह खून के निशान भी मिले है. बता दें घटना के बाद बरामद बाइक पर भी खून के निशान मिले थे. चर्चा है कि हत्या की रात हत्यारे इसी अपार्टमेंट में रुके थे. मामले में आज़मगढ़ के युवक प्रिंस से पुलिस पूछताछ कर रही है. पुलिस लाल डस्टर एसयूवी की मदद से हत्यारों की तलाश में जुटी है.

घटना के बाद पहले बाइक फिर डस्टर से फरार हुए शूटर
अभी तक की जांच में पता चला है कि शूटर्स हत्याकांड को अंजाम देने के बाद लाल रंग की डस्टर कार से फ़रार हुए. वारदात की जगह और कमता बस अड्डे पर लाल डस्टर दिखाई दी है. पुलिस की थ्योरी के अनुसार हत्या करने के बाद शूटर्स बाइक पर सवार होकर कमता बस अड्डा पहुंचे. यहां उन्होंने बस अड्डे पर बाइक खड़ी की और लाल डस्टर में सवार हो गए.

25 गोलियां मारी गई थीं अजीत को

शूटर्स को बिठाकर लाल डस्टर शहीद पथ पर चढ़ी. इसकी जानकारी होने के बाद लखनऊ पुलिस लाल डस्टर की तलाश में जुट गई थी. बता दें शूटर्स ने अजीत सिंह को 25 गोलियां मारीं. शव पर सिर से लेकर पैर तक गोलियों के निशान हैं. इसमें भी 21 गोलियां शरीर से आर-पार हो गईं. वहीं 4 गोलियां पेट और सीने में मिली हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज