SIT करेगी मुलायम से माया राज तक के 1000 करोड़ के घोटाले की जांच

शासन की तरफ से एसआईटी को वित्त वर्ष 2004-05 से 2012-13 के बीच पूर्वांचल के 13 जिलों की 137 परियोजनाएं में हुए घोटाले की जांच का पत्र मिला है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 24, 2019, 12:22 PM IST
SIT करेगी मुलायम से माया राज तक के 1000 करोड़ के घोटाले की जांच
मुलायम-मायावती के शासनकाल में हुए घोटाले की जांच करेगी एसआईटी
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 24, 2019, 12:22 PM IST
प्रदेश की योगी सरकार अब मुलायम से लेकर मायावती शासनकाल के दौरान लोक निर्माण विभाग (पीडब्लूडी) में हुए एक हजार करोड़ से ज्यादा के घोटाले की जांच कराने जा रही है. शासन की तरफ से एसआईटी को वित्त वर्ष 2004-05 से 2012-13 के बीच पूर्वांचल के 13 जिलों की 137 परियोजनाएं में हुए घोटाले की जांच का पत्र मिला है. जिसके बाद एसआईटी ने पीडब्लूडी के प्रमुख सचिव से घोटाले से जुड़ी फाइलें तलब की है.

इन जिलों में होगी जांच

13 जिलों की 137 परियोजनाएं अब एसआईटी जांच के जद में हैं. इनमें वाराणसी, भदोही, सोनभद्र, चंदौली, गाजीपुर, मऊ, बलिया, जौनपुर, मिर्जापुर, आजमगढ़, प्रतापगढ़, प्रयागराज और श्रावस्ती शामिल हैं. आरोप है कि काम के एवज में अधिक भुगतान किया गया जबकि काम भी समय से पूरा नहीं हुआ. सूत्रों के मुताबिक वाराणसी और इलाहाबाद अंचल में 5 से 150 करोड़ तक घोटाला हुआ है.

इन प्रोजेक्ट में घोटाले की आशंका

इसमें सोनभद्र में जेल निर्माण, चंदौली में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, वाराणसी में सामुदायिक केंद्र, भदोही में 100 बेड के अस्पताल और कोर्ट रूम के निर्माण में हुई धांधली शामिल है. इसके अलावा एसआईटी वाराणसी, चंदौली और भदोही में दर्ज मुकदमों की विवेचना भी करेगी. ये मामले भी पीडब्लूडी से संबंधित हैं.

ये भी पढ़ें:

मुजफ्फरनगर दंगे: योगी सरकार ने दी 20 और मुकदमे वापसी की अनुमति
Loading...

आज़म खान पर कसा शिकंजा, ED ने तलब की अवैध संपत्तियों की रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 24, 2019, 11:02 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...