रायबरेली: जेल में वीडियो मामले में बड़ी कार्रवाई, जेल अधीक्षक सहित 6 निलंबित

निलंबित किए जाने वालों में जेलर गोविंद राम वर्मा, डिप्टी जेलर राम चंद्र तिवारी, हेड जेल वार्डर लालता प्रसाद उपाध्याय, जेल वार्डर गंगा राम और शिव मंगल सिंह के नाम शामिल हैं. प्रमुख सचिव गृह ने इन सभी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 26, 2018, 2:02 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: November 26, 2018, 2:02 PM IST
यूपी के रायबरेली जेल के अंदर असलहा-कारतूस के बीच शराब पी रहे कुछ कैदियों का एक वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है. मामले में रायबरेली जेल अधीक्षक प्रमोद कुमार शुक्ला सहित 6 लोगों को निलंबित कर​ दिया गया है. निलंबित किए जाने वालों में जेलर गोविंद राम वर्मा, डिप्टी जेलर राम चंद्र तिवारी, हेड जेल वार्डर लालता प्रसाद उपाध्याय, जेल वार्डर गंगा राम और शिव मंगल सिंह के नाम शामिल हैं. प्रमुख सचिव गृह ने इन सभी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

VIDEO: रायबरेली जेल में असलहों के साथ कैदियों की शराब पार्टी, मांगी जा रही रंगदारी



उधर चार बंदियों को दूसरी जेल में ट्रांसफर कर दिया गया है. इसके अलावा चार बंदियों के खिलाफ रायबरेली कोतवाली नगर में एफाआईआर दर्ज की गई है. इस दौरान जेल की सघन तलाशी भी ली गई, जिसमें 4 मोबाइल, एक सिमकार्ड बरामद किया गया है. एफआईआर में ये जानकारी भी जोड़ दी गई है.
25 नवबर को डीएम संजय कुमार खत्री और एसपी सुजाता सिंह ने एक बार फिर जेल का निरीक्षण किया, इस दौरान सघन तलाशी में सिगरेट, माचिस, लाइटर, मिठाइयां, ड्राइ फ्रूट आदि बैरकों से बरामद हुए हैं.

बता दें कि वायरल वीडियो रायबरेली जिला जेल के बैरक नंबर 10 का बताया जा रहा है. जो 21 नवंबर से पहले का बताया जा रहा है. इसमें बंद अपराधी जेल में सिगरेट का धुआं उड़ाते हुए सरकारी मशीनरी को आइना दिखा रहे हैं. यही नहीं इस वीडियो में जेल में बंद अपराधी फोन पर अपने साथी को 10 हजार रुपये में से 5 हजार रुपये एक जेल के अधिकारी को देने की बात कह रहे हैं.

अब उत्तर भारत में BJP का विकल्प बनने में जुटी शिवसेना, ये है रणनीति

इस मामले में जेल अधीक्षक प्रमोद शुक्ला ने बताया कि वीडियो वायरल में पांच अपराधी दिख रहे हैं. इसमें से चार अपराधियों के खिलाफ सदर कोतवाली में एफआईआर दर्ज है. जेल में चखना और शराब पार्टी का वीडियो वायरल होने की जानकारी पर बंदी निखिल सोनकर को सुल्तानपुर, अजीत को बाराबंकी, दलसिंगार सिंह को फतेहपुर और अंशू का प्रतापगढ़ जिला कारागार स्थानांतरण कर दिया गया है.
Loading...

ये भी पढ़ें: 

धर्म संसद में बोले शंकराचार्य- राजनीतिक कारणों से कारसेवकों ने किया बाबरी मस्जिद का प्रचार

वाराणसी: धर्म संसद ने किया योगी आदित्यनाथ की सबसे ऊंची राम मूर्ति का विरोध

अयोध्या में VHP की धर्मसभा के दौरान करीब 70 हजार भक्तों ने किए रामलला के दर्शन

UPTET 2018: दिसंबर में शिक्षक भर्ती प्रक्रिया शुरू होने के आसार कम, ये रही वजह

VIDEO: रायबरेली जेल में असलहों के साथ कैदियों की शराब पार्टी, मांगी जा रही रंगदारी

मॉर्निंग वॉक पर निकले कपड़ा व्यवसायी की सड़क हादसे में मौत

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...