अखिलेश बोले- अगला सवाल यह है कि पाक अधिकृत कश्मीर का क्या होगा?

इससे पहले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद उनके अनुभवों को साझा भी किया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 5, 2019, 12:30 PM IST
अखिलेश बोले- अगला सवाल यह है कि पाक अधिकृत कश्मीर का क्या होगा?
पाक अधिकृत कश्मीर का क्या होगा?
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 5, 2019, 12:30 PM IST
जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाने की सिफारिश कर दी गई है. इस क्रम में सोमवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि नेताओं को नजरबंद कर देना इंस्टीट्यूशन को अपने दबाव में लेना भारतीय जनता पार्टी से कोई सीखे. उन्होंने कहा कि सवाल कश्मीर का ही नहीं है, अगला सवाल यह है कि पाक अधिकृत कश्मीर का क्या होगा? इससे पहले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद उनके अनुभवों को साझा भी किया.

इस दौरान पूर्व सांसद तथा केंद्रीय मंत्री जनेश्वर मिश्र की प्रतिमा पर अखिलेश यादव ने माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किये. अखिलेश ने कहा कि जनेश्वर मिश्र की गिनती देश के साफ तथा ईमानदार छवि वाले नेताओं में थी. छोटे लोहिया के नाम से विख्यात जनेश्वर मिश्र का जन्म 5 अगस्त 1933 को बलिया जिले के शुभनथही गाँव में हुआ था. उनके अंदर समाजवाद की प्रबल विचारधारा थी. इसी कारण से उनको छोटे लोहिया कहा जाता था.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 में यह प्रावधान किया गया था. इसे लेकर जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी इस प्रावधान के सख्त खिलाफ थे. उन्होंने धारा 370 हटाने के लिए आंदोलन चलाया था. मुखर्जी का बलिदान जम्मू-कश्मीर में हुई था.

जम्मू-कश्मीर में श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने धारा 370 का विरोध शुरू किया था. उन्होंने एक देश में दो विधान, एक देश में दो निशान, एक देश में दो प्रधान-नहीं चलेंगे नहीं चलेंगे जैसे नारे दिए. देश की एकता और अखंडता को लेकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने आंदोलन चलाया था.

ये भी पढ़ें:

कश्मीर में बढ़ते तनाव को देखते हुए UP में हाई अलर्ट, बढ़ाई गई सुरक्षा

कोई कितना भी बड़ा क्यों न हो, कानून उसे माफ नहीं करेगा: CM योगी
Loading...

आर्टिकल 370 संशोधन बिल से पहले सपा सांसद संजय सेठ का राज्यसभा से इस्तीफा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 12:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...