महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट से पहले अखिलेश यादव ने इस शख्स को सौंपी अहम जिम्मेदारी

महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट से पहले अखिलेश यादव ने इस शख्स को सौंपी अहम जिम्मेदारी (file photo)
महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट से पहले अखिलेश यादव ने इस शख्स को सौंपी अहम जिम्मेदारी (file photo)

इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि महाराष्ट्र में हमारी संख्या 2 विधायक की है. उन्हें लगता है कि महाराष्ट्र में जल्द ही गठबंधन की सरकार बनेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2019, 11:28 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. महाराष्ट्र की सियासत पर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की नजरें भी हैं. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सियासी उलटफेर के बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने फ्लोर टेस्ट से पहले सपा के राज्यसभा सांसद अबू आजमी (Abu Azmi) को अहम जिम्मेदारी सौंपी है. न्यूज18 से खास बातचीत में सपा सांसद अबू आजमी ने कहा कि बीजेपी जैसी पार्टी संविधान की धज्जियां उड़ा रही है, ऐसे में अखिलेश यादव ने कहा कि ऐसी पार्टी को कमजोर करने के लिए रणनीति बनाये.

फ्लोर टेस्ट में साबित होगा बहुमत 

सपा सांसद आगे कहते हैं कि शिवसेना और बीजेपी के बीच दरार पैदा होने के बाद अजीत पवार के साथ मिलकर रातो-रात नई सरकार का गठन करना के पीछे एक साजिश है. अबू आजमी ने दावा करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बुधवार यानी 27 नवंबर को हम लोग फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित कर लेंगे. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में एक बार फिर पांच साल के लिए शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन की सरकार बनने जा रही है. आजमी  ने कहा कि हम लोगों के विधायक टूटने वाले नहीं है. बता दें महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के दो विधायक हैं.



इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि  महाराष्ट्र में हमारी संख्या 2 विधायक की है. उन्हें लगता है कि महाराष्ट्र में जल्द ही गठबंधन की सरकार बनेगी.
मध्य प्रदेश की तरह समर्थन पर चर्चाएं तेज

अखिलेश के बयान के बाद लखनऊ के सत्ता के गलियारे में चर्चा आम है कि समाजवादी पार्टी महाराष्ट्र में मध्यप्रदेश मॉडल अपना सकती है. यानी महाराष्ट्र में नए गठबंधन की बन रही सरकार को बाहर से समर्थन दे सकती है. सूत्रों के अनुसार पार्टी में भी इस संबंध में चर्चाएं तेज हो गई हैं. दरअसल समाजवादी पार्टी के नेताओं का तर्क ये है कि सरकार को बाहर समर्थन देने से महाराष्ट्र में संगठन की मजबूती के लिए बेहतर ढंग से काम किया जा सकता है. बता दें मध्यप्रदेश में समाजवादी पार्टी के पास एक विधायक है. ये बिजावर सीट से राजेश शुक्ला हैं. मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार को समाजवादी पार्टी ने बाहर से समर्थन दिया हुआ है.

ये भी पढ़ें:

70वां संविधान दिवस आज: बसपा सुप्रीमो ने ट्वीट करके बीजेपी-कांग्रेस को दी सलाह

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज