कानून-व्यवस्था पर अखिलेश का तंज- 'शुभ दिन' पर नया DGP मिलने की उम्मीद है

जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव रविवार को पार्टी के कार्यकर्ताओं से मिले.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 14, 2018, 3:04 PM IST
कानून-व्यवस्था पर अखिलेश का तंज- 'शुभ दिन' पर नया DGP मिलने की उम्मीद है
पूर्व सीएम अखिलेश यादव.
ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 14, 2018, 3:04 PM IST
जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव रविवार को पार्टी के कार्यकर्ताओं से मिले. इस दौरान प्रदेश में डीजीपी की नियुक्ति पर अखिलेश ने योगी सरकार पर तंज कसा. साथ ही गोरखपुर महोत्सव पर भी सीएम को घेरने की कोशिश की.

अखिलेश ने डीजीपी की नियुक्ति पर तंज कसा कि कल से 'शुभ दिन' शुरू होने पर यूपी को नया डीजीपी मिलने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि यूपी की कानून-व्यवस्था के प्रति सरकार गंभीर नहीं है. कानून-व्यवस्था को सुधारने के लिए कोई प्रयास नहीं कर रही है. लगातार हो रही अपराधिक घटनाओं को रोकने में योगी सरकार पूरी तरह से नाकाम है.

मथुरा में मंत्री के रिश्तेदार की हत्या का मुद्दा उठाते हुए अखिलेश ने कहा कि जब मंत्री और उनके परिजन ही योगी सरकार में सुरक्षित नहीं हैं तो ऐसे हालात में आम आदमी की सुरक्षा कर पाना बड़ा सवाल है. अखिलेश ने कहा कि अपराधियों ने योगी सरकार का मजाक बना रखा है.

सरकार अपराधियों की बजाय राजनीतिक प्रतिद्वंदियों पर शिकंजा कसना चाहती है. राजनीतिक द्वेष भावना के चलते सरकार समाजवादियों के फोन टेप करा रही है.

अखिलेश ने आरोप लगाया कि योगी सरकार ने समाजवादियों के 10 हजार फोन कॉल टेप कराए हैं. दरअसल आलू कांड में समाजवादियों को फंसाने के लिए ये फोन कॉल टेप कराए गए. अखिलेश ने कहा कि किसान किसी भी सोच और विचारधारा का हो सकता है.

गोरखपुर महोत्सव के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ को महोत्सव के आयोजन को लेकर सफाई नहीं देनी चाहिए थी. उन्होंने कहा कि गोरखपुर ही नही यूपी के सभी 75 जिले वीवीआईपी हैं. यूपी के सभी जिलों में महोत्सव का आयोजन होना चाहिए. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी कला-संस्कृति के बढ़ावे, महोत्सव के आयोजन की पक्षधर है. साथ ही अखिलेश ने चुटकी लेते हुए कहा कि गोरखपुर में सैफई से बड़ा महोत्सव होना चाहिए था.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Uttar Pradesh News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर