लाइव टीवी

प्रियंका गांधी कैसे करेंगी गांधी जयंती पर लखनऊ में विरोध मार्च, फंसा ये पेंच

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 1, 2019, 1:36 PM IST
प्रियंका गांधी कैसे करेंगी गांधी जयंती पर लखनऊ में विरोध मार्च, फंसा ये पेंच
कांग्रेस ने ऐलान किया है कि वह 2 अक्टूबर को यूपी सरकार के खिलाफ लखनऊ में विरोध मार्च करेगी. प्रियंका गांधी भी इस में शामिल हो सकती हैं.

शाहजहांपुर (Shahjahanpur) के चिन्मयानंद प्रकरण (Chinmayanand Case) को लेकर कांग्रेस (Congress) 2 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे लखनऊ (Lucknow) में पदयात्रा करेगी. लेकिन इस विरोध मार्च को जिला प्रशासन ने अब तक अनुमति नहीं दी है. कांग्रेस नेताओं को DM के संदेश का इंतज़ार है.

  • Share this:
लखनऊ. गांधी जयंती (Gandhi Jayanti) पर इस बार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ बड़ा सियासी अखाड़ा बनती नजर आ रही है. एक तरफ योगी सरकार (Yogi Government) ने यूपी विधानसभा (UP Assembly) के ऐतिहासिक विशेष सत्र बुलाया है. वहीं दूसरी तरफ कानून व्यवस्था पर विपक्ष हमलावर है. शाहजहांपुर के चिन्मयानंद प्रकरण को लेकर कांग्रेस 2 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे लखनऊ के शहीद स्मारक से गांधी प्रतिमा (GPO) तक पदयात्रा करेगी. इस दौरान पदयात्रा में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी शामिल होंगीं. लेकिन इस विरोध मार्च पर पेंच फंसता दिख रहा है. दरअसल कांग्रेस के इस विरोध मार्च को जिला प्रशासन ने अब तक अनुमति नहीं दी है. जिला प्रशासन का तर्क है कि विधानसभा सत्र की वजह से लखनऊ में धारा 144 लागू है. बहरहाल, कांग्रेस नेताओं को DM के संदेश का इंतज़ार है.

दरअसल कांग्रेस ने चिन्मयानंद (Chinmayanand) से ब्लैकमेलिंग मामले में पीड़ित छात्रा की गिरफ़्तारी के खिलाफ मंगलवार को होने वाली न्याय यात्रा (Nyay Yatra) को रद्द कर दिया गया है. अब कांग्रेस (Congress) की राष्‍ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के नेतृत्व में गांधी जयंती (Gandhi Jayanti) के दिन जनाक्रोश पदयात्रा होगी. इसमें प्रदेश भर के कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल होंगे. चिन्मयानंद मामले में आज प्रदेश भर में कांग्रेस को प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करना था.

यूपी में पहली बार 36 घंटे चलेगी विधानसभा

दरअसल महात्मा गांधी की 150वीं जयंती वर्ष के मौके पर 2 अक्टूबर को योगी सरकार विधानमंडल का विशेष सत्र आयोजित करने जा रही है. सुबह 11 बजे से शुरू होने वाले इस विशेष सत्र के लगातार 36 घंटे से भी ज्यादा समय तक चलने की उम्मीद है और इस दौरान यूपी में सतत विकास के 17 लक्ष्यों को हासिल करने के लिए विधानसभा और विधानपरिषद में चर्चा की जाएगी. सभी विधायकों को अपने क्षेत्र के मुद्दे उठाने का मौका मिलेगा. ऐसा विशेष सत्र किसी राज्य की विधानसभा में पहली बार आहूत किया जा रहा है.

विपक्ष कर रहा है बहिष्कार

जानकारी के मुताबिक समाजवादी पार्टी इस विशेष सत्र का बहिष्कार करेगी. इस दौरान सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में लखनऊ स्थित गांधी प्रतिमा पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया जाएगा. वहीं बसपा की तरफ से अभी सदन में शामिल होने या ना होने पर रुख साफ नहीं किया गया है, जबकि कांग्रेस की तरफ से भी अभी रुख स्पष्ट नहीं है.

इनपुट: अजीत सिंहये भी पढ़ें:

अब गांधी जयंती पर लखनऊ में प्रियंका गांधी के नेतृत्व में होगी जनाक्रोश यात्रा

योगी सरकार ने पहली बार बुलाया विधानमंडल का विशेष सत्र, सपा करेगी बहिष्कार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 1, 2019, 1:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर