राफेल अवमानना केस, CJI ने राहुल गांधी से मांगा जवाब, कहा- ऐसी बातें कही गईं, जो हमने नहीं कही

अब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी स्पष्टीकरण मांगा है. बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने उनके खिलाफ ये याचिका दायर की थी, जिस पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 15, 2019, 1:16 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 15, 2019, 1:16 PM IST
राफेल मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ दाखिल अवमानन याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने जवाब तलब किया है. सोमवार को सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस रंगन गोगोई ने कहा कि ऐसी बातें कहीं गईं, जो हमने नहीं कही.

अब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी स्पष्टीकरण मांगा है. बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने उनके खिलाफ ये याचिका दायर की थी, जिस पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की. राहुल गांधी को सोमवार से पहले सुप्रीम कोर्ट में जवाब दाखिल करना है. कोर्ट ने मामले की आगे की सुनवाई के लिए सोमवार 22 अप्रैल की तारीख तय की है.

दरअसल, पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने राफेल विमान सौदे को लेकर दाखिल पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि चोरी हुए गोपनीय दस्तावेज को भी कोर्ट स्वीकार किया जाएगा. जिसके बाद राहुल गांधी ने 9 अप्रैल को अमेठी सीट के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद संवाददाताओं से कहा था, 'अब सुप्रीम कोर्ट ने भी स्पष्ट कर दिया है कि चौकीदार ने चोरी की है.' उन्होंने दावा किया कि शीर्ष अदालत ने स्वीकार किया है कि राफेल में कुछ भ्रष्टाचार है. उन्होंने कहा था कि मैं खुश हूं और मैं महीनों से यह कह रहा हूं कि प्रधानपमंत्री ने एयरफोर्स का पैसा अनिल अंबानी को दे दिया है और सुप्रीम कोर्ट ने इसे स्वीकार कर लिया है. सुप्रीम कोर्ट इसकी जांच करने जा रहा है.

इसके बाद बीजेपी सांसद और अधिवक्ता याचिकाकर्ता मीनाक्षी लेखी ने अपनी याचिका में दावा किया है कि कांग्रेस अध्‍यक्ष की ओर से रैलियों में और अन्‍य माध्‍यमों से अपनी बात को सुप्रीम कोर्ट का हवाला देकर कहा जा रहा है. अपनी याचिका में उन्होंने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी ने अपनी व्यक्तिगत टिप्पणियों को शीर्ष अदालत के मुंह में डाला है और इस तरह उन्होंने गलत धारणा पैदा करने का प्रयास किया है. मीनाक्षी लेखी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने पीठ से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने कथित रूप से टिप्पणी की कि अब सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया कि चौकीदार चोर है.

इस पर सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस की खंडपीठ ने कहा कि ऐसी बातें कही गईं हैं जिसे हमने नहीं कहा. अब राहुल गांधी को सोमवार तक अपना स्पष्टीकरण देना है.

ये भी पढ़ें:

मेरी अश्लील तस्वीरें बांटी जा रही थीं पर किसी नेता ने मेरी मदद नहीं की- जयाप्रदाढाई साल चलेगा SP-BSP गठबंधन, विश्वास के लायक नहीं माया-अखिलेश: शिवपाल

Analysis: पूर्वांचल में BJP की चाल से 'कमल' को घेरने की कोशिश में कांग्रेस, चला ये बड़ा दांव!

Analysis: गोरखपुर सीट पर कोई रिस्क लेने को तैयार नहीं योगी, इस मास्टर प्लान के सहारे देंगे गठबंधन को पटखनी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार