Home /News /uttar-pradesh /

tejasvi surya reached vijayanagar visited temples there with his supporters

देश के इतिहास की झलक समेटे हुए है विजयनगर, पहुंचे तेजस्वी सूर्या, किए मंदिरों में दर्शन

    नई दिल्ली. भारत का इतिहास बस ताजमहल से शुरू हो कर लाल किले पर खत्म नही होता. भारत का इतिहास इन चंद स्मारकों से परे भी है. इसी भारत के गौरवशाली इतिहास का एक पन्ना है प्राचीन विजयनगर साम्राज्य. 15वीं शताब्दी में जब इस साम्राज्य का वैभव अपने चरम पर था तब विरुपाक्ष मंदिर और विजय विट्ठल मंदिर जैसे वास्तुशिल्प के शानदार उदाहरणों का निर्माण हुआ. भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता इन दिनों अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या के नेतृत्व में भारत दर्शन कार्यक्रम के तहत कर्नाटक के इन्हीं ऐतिहासिक और धार्मिक स्थलों का भ्रमण कर रहे हैं. इसी कड़ी में कार्यकर्ताओं का दल रविवार 3 अप्रैल को प्राचीन विजयनगर साम्राज्य की राजधानी हम्पी पहुंचा और यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित मशहूर विरुपाक्ष मंदिर, विजय विट्ठल मंदिर और अंजनाद्री पर्वत के दर्शन किये.

    भारत दर्शन कार्यक्रम युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या द्वारा शुरू किया गया एक नायाब मिशन है जिसका मुख्य उद्देश्य भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं को भारत के समृद्ध इतिहास से परिचित कराना है.

    तेजस्वी सूर्या ने अपने विचारों के दम पर भारतीय राजनीति में अपनी एक अलग पहचान बनाई है. राष्ट्रवाद, सुशासन, भारतीय संस्कृति और हिंदुत्व भाजपा के चार स्तंभ हैं. इसलिए बतौर युवा मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने अपने कार्यकर्ताओं के लिए भारत दर्शन जैसा मिशन शुरू किया ताकि उन्हें भारतीय सभ्यता, संस्कृति और समृद्ध इतिहास से परिचित कराया जा सके. इसके अतिरिक्त भारत दर्शन यात्रा के जरिये तेजस्वी सूर्या अपने कार्यकर्ताओं को सुशासन की शिक्षा भी दे रहे हैं. प्राचीन विजयनगर साम्राज्य अपने सुशासन और समृद्धि के लिए विश्व प्रसिद्ध था. कहते हैं इतिहास से शिक्षा ले कर भी भविष्य बेहतर बन सकता है.

    युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने हम्पी के इन प्राचीन मंदिरों के दर्शन किए और इनके इतिहास के बारे में जानकारी हासिल की. बीवाईजेएम के इस दल में देश के विभिन्न हिस्सों से आए कार्यकर्ता शामिल थे. इनमें से कई ऐसे भी थे जो पहली बार इन ऐतिहासिक मंदिरों को देख रहे थे. प्राचीन विजयनगर साम्राज्य की वैभवशाली वास्तुकला, और सांस्कृतिक समृद्धि देख सबके चेहरे पर कौतूहल और खुशी छलक रही थी. भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा आयोजित भारत दर्शन कार्यक्रम का उद्देश्य ही कार्यकर्ताओं को भारत की सांस्कृतिक और ऐतिहासिक समृद्धि के बारे में अवगत कराना है. मंदिरों के दर्शन के बाद युवा मोर्चा की टीम अंजनाद्री पर्वत पर भी पहुंची. अंजनाद्री पर्वत को श्री रामभक्त हनुमान जी की जन्मस्थली माना जाता है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर