अपना शहर चुनें

States

स्टार प्रचारक बने CM योगी, विधानसभा चुनावों में सबसे ज्यादा डिमांड

सीएम योगी हैं स्टार प्रचारक 
(फाइल फोटो)
सीएम योगी हैं स्टार प्रचारक (फाइल फोटो)

'हिन्दुत्व का चेहरा बन चुके 46 साल के आदित्यनाथ ने चुनाव वाले तीन राज्यों में 53 जनसभायें की हैं. इनमें छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा 21 सभायें शामिल हैं. जबकि यहां पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने नौ जनसभाओं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार सभाओं को संबोधित किया है.'

  • Share this:
भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विधानसभा चुनाव वाले राज्यों राजस्थान, छत्तीसगढ एवं मध्य प्रदेश में प्रचार के लिए ऐसे नेता बनकर उभरे हैं जिनकी सबसे ज्यादा मांग है. इन राज्यों में पार्टी का भविष्य दांव पर लगा हुआ है.

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने सोमवार को मीडिया को बताया कि योगी ने इन तीन राज्यों में पचास से ज्यादा चुनावी सभाओं को संबोधित किया है. इन स्थानों पर स्थानीय प्रत्याशियों के प्रचार के लिये योगी की मांग सबसे ज्यादा थी.  उन्होंने कहा, 'हिन्दुत्व का चेहरा बन चुके 46 साल के आदित्यनाथ ने चुनाव वाले तीन राज्यों में 53 जनसभायें की हैं. इनमें छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा 21 सभायें शामिल हैं. जबकि यहां पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने नौ जनसभाओं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार सभाओं को संबोधित किया है.'

यूपी कैबिनेट में 16 प्रस्तावों पर लगी मुहर, योगी सरकार ने पुलिस कर्मियों को दिया तोहफा



इसी तरह मध्य प्रदेश में जहां भाजपा के शिवराज सिंह चौहान चौथी बार सत्ता पाने के लिये संघर्ष कर रहे है, उप्र के मुख्यमंत्री ने 15 जनसभाओं को संबोधित किया है. जबकि शाह ने 25 रैलियों को और प्रधानमंत्री ने 10 सभाओं को संबोधित किया है. चुनाव वाले एक अन्य प्रदेश राजस्थान जहां सात दिसंबर को चुनाव होना है, में मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिये आदित्यनाथ 17 जनसभाओं को संबोधित करेंगे जबकि प्रधानमंत्री की 10 जनसभाएं होनी हैं.
बुलंदशहर इंस्पेक्टर की हत्या: गृह विभाग की मामले पर नजर, SIT करेगी जांच

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी का का कहना है, ‘‘आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश निरंतर विकास की ओर अग्रसर है और दूसरे प्रदेशों के लिये विकास की मिसाल बन रहा है. प्रदेश में निवेश हो रहा है, कानून व्यवस्था की स्थिति में पहले की सरकारों की तुलना में तेजी से सुधार हो रहा है. राज्य सरकार ने फरवरी माह में चार लाख करोड़ रूपये के एमओयू (समझौता पत्र) पर हस्ताक्षर किये हैं और जुलाई तक 60 हजार करोड़ रूपये की परियोजनायें धरातल पर उतर आयी हैं.' उन्होंने कहा कि दूसरे राज्यों में हमारे मुख्यमंत्री की मांग यह दर्शाती है कि उनकी स्वीकार्यता उत्तर प्रदेश के अलावा अन्य राज्यों में भी बहुत है.

बुलंदशहर इंस्पेक्टर की हत्या: विपक्ष का आरोप लोकतंत्र में भीड़तंत्र को शह दे रही योगी सरकार

छत्तीसगढ़ में दो चरणों में 12 और 20 नवंबर को चुनाव हो चुके हैं, जबकि मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को चुनाव हो चुके हैं. राजस्थान में सात दिसंबर को मतदान होगा.
(ऐजेंसी के इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज