टीचर्स की हर एक्टिविटी पर होगी सरकार की नजर, अटेंडेंस लिए बनाया ये कड़ा नियम

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 22, 2019, 10:51 PM IST
टीचर्स की हर एक्टिविटी पर होगी सरकार की नजर, अटेंडेंस लिए बनाया ये कड़ा नियम
सरकारी स्कूल के टीचरों पर सरकार ऐसे रखेगी नजर

शिक्षा विभाग (Education Department) का मानना है कि इससे टीचरों (Teacher) की उपस्थिति और बच्चों की संख्या की सही जानकारी उन्हें मिलती रहेगी. साथ ही सभी टीचरों की नियुक्ति से लेकर तबादला, पोस्टिंग, पदोन्नति सब ऑनलाइन होगा.

  • Share this:

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में शिक्षा व्यवस्था (Education System) में खामियों को दुरूस्त करने के लिए बेसिक शिक्षा परिषद (Basic Shiksha Parishad) ने एक पहल की है. इसके चलते अब परिषदीय प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्कूलों में होने वाली हर एक्टिविटी अब ऑनलाइन होगी. इसके लिए ‘प्रेरणा’ मोबाइल ऐप बनाया गया है. ये ऐप कैसे काम करते है इसे लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं. इस नई व्यवस्था से अब शिक्षकों को सही रिपोर्टिंग दर्शानी होगी.


मंगलवार को बेसिक शिक्षा के प्रमुख सचिव विजय किरण आनंद ने प्रदेश के सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को बैठक में इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि  सभी हेडमास्टरों को एक-एक टैब दिया जाएगा. जिसमें रोज जब स्कूल खुलेगा और बंद होगा. इसके साथ ही एमडीएम के समय बच्चों और टीचरों के साथ सेल्फी लेकर ऐप पर अपलोड करनी पड़ेगी.

इससे सुधरेगी व्यवस्था
विभाग का मानना है कि कि इससे टीचरों की उपस्थिति और बच्चों की संख्या की सही जानकारी उन्हें मिलती रहेगी. साथ ही सभी टीचरों की नियुक्ति से लेकर तबादला, पोस्टिंग, पदोन्नति सब ऑनलाइन होगा. हर ब्लाक के खंड शिक्षाधिकारी और हर स्कूल के हेडमास्टर को एक-एक टैब मिलेगा, जिसके माध्यम से रोज हाजिरी लेकर ऐप पर अपलोड करना होगा. इसकी निगरानी शासन स्तर से की जाएगी.प्राथमिक विद्यालयों में यह व्यवस्था लागू होने से जिले के 1368 प्राइमरी और जूनियर हाईस्कूल के लगभग सात हजार शिक्षकों का विवरण ऑनलाइन होगा.

ये पूरा प्रॉसेस
सबसे पहले अपने मोबाइल नंबर से 'प्रेरणा' मोबाइल ऐप पर रजिस्ट्रार करना होगा. रजिस्ट्रार के समय चार अंकों का पिन बनाना होगा. इसके बाद मोबाइल की स्क्रीन पर प्रदर्शित प्रेरणा ऐप के आइकन को क्लिक करना होगा. अगली स्क्रीन दिखेगी, इसमें आपको अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर और आपके द्वारा बनाया गया चार अंकों का पिन उपयोग करना है.

फिर लाग-इन के बटन को दबाएंगे. स्क्रीन पर आपको अपने विद्यालय में क्या-क्या कार्य करने है, उसका विवरण दिखेगा. जैसे अध्यापक उपस्थिति, प्रार्थना सभा की उपस्थिति, मध्याह्न भोजन आदि के विकल्प होंगे. इस व्यवस्था से शिक्षकों और बच्चों की उपस्थिति से लेकर मध्याह्न भोजन में भी पारदर्शिता आएगी.
Loading...

ये भी पढ़ें: 

दूसरे के बदले CISF भर्ती परीक्षा दे रहे 4 मुन्नाभाई गिरफ्तार

विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर नोएडा में हुई लाखों की ठगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 8:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...