लाइव टीवी

रंजीत बच्चन हत्याकांड के बाद 72 घंटे तक लखनऊ में ही घूम रहा था शूटर
Lucknow News in Hindi

Rishabh Mani | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 8, 2020, 10:01 AM IST
रंजीत बच्चन हत्याकांड के बाद 72 घंटे तक लखनऊ में ही घूम रहा था शूटर
रंजीत हत्याकांड में शामिल शूटर जितेंद्र पुलिस एनकाउंटर में घायल.

लखनऊ पुलिस ने एनकाउंटर (Encounter) के बाद रंजीत बच्चन हत्याकांड केस में फरार चल रहे आरोपी शूटर जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है. एनकाउंटर में जितेंद्र को गोली लगी है, उसे पुलिस ने लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया है. उसके पास से एक बाइक और पिस्टल पुलिस ने बरामद की है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में 2 फरवरी को हुए रंजीत बच्चन हत्याकांड (Ranjeet Bachchan Murder Case) मामले में लखनऊ पुलिस (Lucknow Police) को बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस ने एनकाउंटर (Encounter) के बाद केस में फरार चल रहे आरोपी शूटर जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है. एनकाउंटर में जितेंद्र को गोली लगी है, उसे पुलिस ने लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया है. उसके पास से एक बाइक और पिस्टल पुलिस ने बरामद की है. बता दें जितेंद्र की गिरफ्तारी पर पुलिस कमिश्नर ने 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था.

बाइक से फरार हो रहा था रायबरेली
बता दें 2 फरवरी को मॉर्निंग वॉक के दौरान विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस सनसनीखेज हत्याकांड में रंजीत की दूसरी पत्नी स्मृति उसका प्रेमी दीपेंद्र और हत्या में इस्तेमाल कार का ड्राईवर संजीत गुरुवार को गिरफ्तार हो चुके थे. वहीं रंजीत बच्चन को गोली मारने वाला शूटर जीतेंद्र फरार था. शुक्रवार रात करीब 12:30 बजे इंस्पेक्टर हजरतगंज धीरेंद्र कुशवाहा को सूचना मिली कि जीतेंद्र अपनी बाइक से लखनऊ छोड़कर रायबरेली की ओर फरार हो रहा है. जैसे ही इंस्पेक्टर ने सूचना वायरलेस सेट पर प्रसारित की, उसके बाद पुलिस ने जितेंद्र की गिरफ्तारी के लिए घेराबंदी शुरू कर दी.

साजिशकर्ता दीपेंद्र का चचेरा भाई है शूटर

आलमबाग थाना क्षेत्र के देवी खेड़ा मोड़ पर पुलिस टीम से जितेंद्र का सामना हो गया. पुलिस को देखते ही जीतेंद्र ने फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी गोली चलाई, जिसमें जीतेंद्र घायल हो गया. लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे के मुताबिक जितेंद्र के बाएं पैर में गोली लगी है, जिसे इलाज के लिए लोकबंधु अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. पुलिस को मौके से जीतेंद्र की बाइक, कारतूस और पिस्टल बरामद हुई है. मूल रूप से रायबरेली का रहने वाला जितेंद्र इस हत्याकांड की साजिश रचने वाले दीपेंद्र का चचेरा भाई है.

ये भी पढ़ें:

बीजेपी ने यूपी की पहचान ‘हत्या प्रदेश‘ के रूप में करा दी: अखिलेश यादवरंजीत बच्चन हत्याकांड: पढ़िए गंधर्व विवाह, बेवफाई, दबंगई और बदले की पूरी कहानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 8:54 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर