उत्तर प्रदेश में लग सकता है वीकेंड लॉकडाउन, कल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कर सकते हैं घोषणा

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 के साथ बैठक की.  (फाइल फोटो)

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 के साथ बैठक की. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री ने टीम 11 के साथ हुई बैठक में फुल लॉकडाउन के लिए फिलहाल मना कर दिया है. उन्होंने निर्देश दिया है कि व्यवस्थाएं मजबूत रखी जाएं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 4:45 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना वायरस (coronavirus) का संक्रमण लगातार तेजी से बढ़ रहा है. इसको लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi adityanath) ने टीम 11 के साथ बैठक की है. सूत्रों ने बताया कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में जल्द ही लग सकता है वीकेंड लॉकडाउन की घोषणा की जा सकती है. सप्ताहांत लॉकडाउन को लेकर कल आदेश जारी किए जा सकते हैं. हालांकि मुख्यमंत्री ने टीम 11 के साथ हुई बैठक में फुल लॉकडाउन के लिए फिलहाल किया मना कर दिया है. उन्होंने निर्देश दिया है कि व्यवस्थाएं मजबूत रखी जाएं.

सुप्रीम कोर्ट में पंचायत चुनाव पर रोक लगाने की याचिका

इस बीच, कोरोना संक्रमण का सामना कर रहे उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव चल रहा है. यहां पंचायत चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग चल रही है. सोमवार को लखनऊ, वाराणसी, गौतम बुद्ध नगर समेत कुल 20 जिलों में वोटिंग हो रही है. लेकिन अब इस पर रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है. याचिकाकर्ता ने उत्तर प्रदेश में जारी ग्राम पंचायत चुनाव पर रोक लगाने की मांग की है. याचिकाकर्ता द्वारा इलाहाबाद हाईकोर्ट के उस फैसले को चुनौती दी गई है, जिसमें हाईकोर्ट ने चुनावों को जारी रखने की अनुमति दी थी.

रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर रासुका
आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में रेमडेसिविर जैसी जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी की खबरें सामने आई थीं. इस बाबत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ तौर पर कहा कि ऐसी दवाओं की कालाबाजारी बड़ा अपराध है. इसमें शामिल लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट या रासुका के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के बारे में समाज में व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए. सीएम योगी ने कहा है क‍ि रेमडेस‍िविर सहित किसी भी प्रकार के जीवनरक्षक दवाओं की कोई कमी नहीं है. सभी जिलों में इनकी उपलब्धता सुनिश्चित रखी जाए. उन्होंने कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-11 के साथ बैठक कर कई निर्देश जारी किए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज