अपना शहर चुनें

States

अब मसूर दाल के लिए तरसेगा पाकिस्तान, सीतापुर के व्यापारियों ने लिया फैसला

इमरान खान (फाइल फोटो)
इमरान खान (फाइल फोटो)

इससे पहले मोदी सरकार ने पाकिस्तान की ओर जाने वाले 'हमारे हिस्से के पानी' को रोकने का निर्णय किया था. इसका मतलब यह हुआ कि आतंक की खेती करने वाले पाकिस्तान अब बूंद-बूंद को तरसेगा.

  • Share this:
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में आक्रोश की लहर है. किसान से लेकर व्यापारी तक हर कोई अपने-अपने स्तर पर पाकिस्तान का विरोध जता रहा है. इस कड़ी में सीतापुर के व्यापारियों ने मसूर की दाल पाकिस्तान नहीं भेजने का फैसला लिया है. जानकारी के मुताबिक, सीतापुर में बड़ी मात्रा में मसूर की दाल की पैदावार होती है, जो पंजाब के रास्ते पाकिस्तान और बंगलादेश भेजी जाती है.

इससे पहले मोदी सरकार ने पाकिस्तान की ओर जाने वाले 'हमारे हिस्से के पानी' को रोकने का निर्णय किया था. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मुताबिक, भारत के तीन नदियों के अधिकार का पानी प्रोजेक्ट बनाकर पाकिस्तान के बजाय यमुना में छोड़ा जाएगा. मालूम हो कि व्यास, रावी और सतलज नदियों का पानी भारत से होकर पाकिस्तान पहुंचता है. इसका मतलब यह हुआ कि आतंक की खेती करने वाले पाकिस्तान अब बूंद-बूंद को तरसेगा.

एयर फोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के पाकिस्तान की हिरासत से लौटने पर पूरे देश ने उनका हार्दिक अभिनंदन किया है.आपको बता दें, भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश कर रहे पाकिस्तान के F-16 विमान को निशाना बनाने के बाद विंग कमांडर अभिनंदन का मिग-21 बुधवार को क्रैश हो गया था. उन्हें पैराशूट के जरिए इजेक्ट होना पड़ा. वह पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में चले गए थे, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें हिरासत में ले लिया था.



(रिपोर्ट: हिमांशु पुरी)
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

ये भी पढ़ें:

राहुल गांधी ने विंग कमांडर का किया अभिनंदन, कहा- आपकी शौर्य और वीरता पर गर्व

योगी सरकार के मंत्री ने कुछ इस अंदाज में किया विंग कमांडर 'अभिनंदन' का स्वागत

सुर्खियां: हरदोई में भी आया अभिनंदन, कैबिनेट बैठक में आज लिए जा सकते हैं कई महत्वपूर्ण फैसले

कुंभः 7664 लोगों ने 20 लाख वर्ग फीट में चित्रकारी कर बनाया भारत का विश्व रिकॉर्ड

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज