होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Lucknow: डायरिया से 2 लोगों की मौत के बाद जागा प्रशासन, डोर टू डोर सर्वे के साथ कर रहा ये काम

Lucknow: डायरिया से 2 लोगों की मौत के बाद जागा प्रशासन, डोर टू डोर सर्वे के साथ कर रहा ये काम

लखनऊ के अलीगंज के सेक्टर बी में स्थित फतेहपुर गांव में डायरिया की वजह से दो लोगों की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है. वहीं ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ. यूपी की राजधानी लखनऊ के अलीगंज सेक्टर-बी के फतेहपुर गांव में इन दिनों डायरिया की वजह से कोहराम मचा हुआ है. पिछले तीन दिनों के दौरान यहां पर दो मौतें हो चुकी हैं. इसके अलावा सैकड़ों लोग बीमार हैं. दो मौतों के बाद यहां के लोगों में शासन-प्रशासन के खिलाफ भारी आक्रोश है. लोगों के बढ़ते गुस्से को देखते हुए बुधवार को इस इलाके में जिला अधिकारी, स्थानीय विधायक, डीजी हेल्थ और नगर आयुक्त ने पहुंचकर पूरे इलाके का जायजा लिया और लोगों को आश्वासन दिया है कि यहां की वाटर लाइन और सीवर लाइन दोनों को ही जल्द ठीक करवा दिया जाएगा.

वहीं, स्थानीय लोगों का आरोप है कि पिछले कई सालों से यहां पर वाटर लाइन और सीवर लाइन दोनों का लीकेज है. अक्सर गंदा पानी आता है जिसकी शिकायत कई बार की जा चुकी है, लेकिन आज तक कभी कुछ नहीं हुआ. अब अगर इस इलाके में सीवर लाइन और वाटर लाइन नहीं बदली गई तो किसी भी अधिकारी को इस इलाके में घुसने नहीं दिया जाएगा. इसके अलावा विभागों के बाहर जमकर प्रदर्शन किया जाएगा.

आपके शहर से (लखनऊ)

यह है पूरा मामला
फतेहपुर गांव अलीगंज के सेक्टर बी में बना हुआ है. इस गांव में कई परिवार रहते हैं. इस इलाके में पिछले तीन दिनों के दौरान एक 60 वर्षीय बुजुर्ग और एक साल की मासूम बच्ची की उल्टी, दस्त की वजह से मौत हो चुकी है. इसके बाद से लोगों में भारी आक्रोश है. स्थानीय लोगों का आरोप है कि सीवर लाइन और वाटर लाइन दोनों लीकेज की वजह से आपस में मिल गई हैं. उसी गंदे पानी को पीने की वजह से लोग बीमार पड़ रहे हैं और जो दो मौतें हुई हैं, वह भी इसी गंदे पानी को पीने की वजह से हुई हैं.

नगर निगम और स्वास्थ विभाग की टीम तैनात
इस पूरे इलाके में नगर निगम की ओर से चार टैंकर साफ पानी के लोगों के लिए खड़े किए गए हैं. इसके अलावा पूरे इलाके की सफाई कराई जा रही है. डोर टू डोर सर्वे करके लोगों की वाटर लाइन और सीवर लाइन की भी जांच की जा चुकी है. वहीं स्वास्थ्य विभाग की ओर से डॉक्टर का एक पैनल इंदिरा पार्क में तैनात किया गया है, जो कि वहां पर आने वाले मरीजों को तत्काल उपचार दे रहा है.

क्या कहते हैं अधिकारी
इस पूरे मामले पर नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह ने बताया कि इसमें कुछ लोगों ने अवैध तरीके से पानी का कनेक्शन मुख्य पाइप लाइन से कट करके ले लिया था, जो कि कहीं से लीक हो रहा था. उसकी वजह से ही लोगों के घरों तक गंदा पानी पहुंचा है और यह समस्या सामने आई है. उनका कहना है कि नगर निगम की ओर से वाटर लाइन और सीवर लाइन बदली जा रही है. जल्दी इसको ठीक कर दिया जाएगा, तब तक के लिए चार टैंकर इलाके में तैनात किये गए हैं, जिसमें पूरी तरह से साफ पानी है. इसके अलावा पूरे इलाके की सफाई कराई जा रही है. डोर टू डोर सर्वे किया जा रहा है. लोगों के घर पर जो टंकी है उसकी भी सफाई नगर निगम कर रहा है.

महानिदेशक स्वास्थ्य विभाग डॉ. लिली सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम को आदेश दे दिए गए हैं कि वह लोगों का हरसंभव इलाज करें. सीएमओ को भी आदेश दिए गए हैं. आशा वर्कर्स भी हैं जो लोगों के घर जाकर जो बीमार हैं उनको अस्पताल तक पहुंचाने का काम कर रही हैं.

Tags: Lucknow news, Lucknow News Update

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें