होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

यूपी एटीएस ने अवैध रूप से रह रहे 2 रोहिंग्या मुस्लिमों को कोलकाता से किया गिरफ्तार

यूपी एटीएस ने अवैध रूप से रह रहे 2 रोहिंग्या मुस्लिमों को कोलकाता से किया गिरफ्तार

UP ATS ने दो रोहिंग्या मुस्लिमों को कोलकाता से किया गोरफ्तार

UP ATS ने दो रोहिंग्या मुस्लिमों को कोलकाता से किया गोरफ्तार

UP ATS Latest News: मोहम्मद जमील बन चुका हारिशुल्ला फर्जी भारतीय कागजातों से अवैध रोहिंग्या मुस्लिमों के पासपोर्ट और वीजा बनवा कर विदेश भेजने के साथ ही अन्य भारतीय राज्यों में भी इनकी घुसपैठ करा देता था. यूपी एटीएस ने मोहम्मद जमील की निशानदेही पर अवैध रोहिंग्या मुस्लिम नूर अमीन को गिरफ्तार किया, जिसने फर्जी भारतीय हिंदू सुदीप मैती नाम से पश्चिम बंगाल के नादिया जिले का फर्जी भारतीय पहचान पत्र बनवा लिया था.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. यूपी एटीएस (UP ATS) ने कोलकाता (Kolkata) से मोहम्मद जमील उर्फ हारिशुल्ला और नूर अमीन को  गिरफ्तार किया है. दोनों आरोपी मूल रूप से म्यांमार के रहने वाले रोहिंग्या मुस्लिम (Rohingya Muslim) है. गिरफ्तार मोहम्मद जमील उर्फ हारिशुल्ला कुछ समय पहले अवैध तरीके से बांग्लादेश बॉर्डर के जरिए पश्चिम बंगाल में दाखिल हुआ था. पश्चिम बंगाल में ही उसने भारतीय नाम मोहम्मद जमील नाम से फर्ज़ी भारतीय पहचान पत्र बनवा लिए थे. यह पहचान पत्र उसने 24 परगना जिले में बनवाए थे. भारतीय पहचान पत्र हासिल करने के बाद मोहम्मद जमील उर्फ हारिशुल्ला ने तमाम अवैध रोहिंग्या मुस्लिमों को अवैध तरीके से पश्चिम बंगाल लाकर भारतीय पहचान पत्र बनाने का काम भी शुरू कर दिया.

मोहम्मद जमील बन चुका हारिशुल्ला फर्जी भारतीय कागजातों से अवैध रोहिंग्या मुस्लिमों के पासपोर्ट और वीजा बनवा कर विदेश भेजने के साथ ही अन्य भारतीय राज्यों में भी इनकी घुसपैठ करा देता था. यूपी एटीएस ने मोहम्मद जमील की निशानदेही पर अवैध रोहिंग्या मुस्लिम नूर अमीन को गिरफ्तार किया, जिसने फर्जी भारतीय हिंदू सुदीप मैती नाम से पश्चिम बंगाल के नादिया जिले का फर्जी भारतीय पहचान पत्र बनवा लिया था.

कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी ATS
यूपी एटीएस के मुताबिक मोहम्मद जमील कुछ समय उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भी रह चुका है. लिहाजा जल्द ही मोहम्मद जमील को कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी. जिससे इस सिंडिकेट से जुड़े तमाम अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी हो सके. बीते कुछ समय में यूपी एटीएस ने 20 से ज्यादा अवैध रोहिंग्या मुस्लिमों की गिरफ्तारी की है जो उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में फर्जी भारतीय पहचान पत्र की बदौलत रह रहे थे. एक ऐसे सिंडिकेट का भी खुलासा किया था जो फर्जी भारतीय पहचान पत्र के आधार पर पासपोर्ट – वीजा बनवा कर विदेश भेजने का काम भी करता है.

Tags: Lucknow news, Rohingya, Rohingya Muslims, UP ATS, Up news in hindi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर